Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

Delhi Power Crisis: दिल्ली में कोयले की कमी से 'पावर कट' की समस्या बढ़ी, मनीष सिसोदिया ने मोदी सरकार पर साधा निशाना, बोले...

Delhi Power Crisis: दिल्ली में कोयला की कमी से बिजली संकट होने की संभावनाओं पर केंद्रीय ऊर्जा मंत्री आरके सिंह (Union Energy Minister RK Singh) ने पूरी तरह गलत बताया है। उन्होंने कहा कि दिल्ली में ना अभी बिजली का कोई संकट है और ना आने वाले दिनों होगा। उन्होंने कहा कि हमारे पास कोयले का भरपूर स्टॉक है, कोयला संकट को बेवजह प्रचारित किया गया है।

Delhi Power Crisis: दिल्ली में कोयले की कमी से
X

 दिल्ली में कोयले की कमी से 'पावर कट' की समस्या बढ़ी

Delhi Power Crisis दिल्ली समेत देशभर के कई राज्यों पर कोयले की कमी (Lack Of Coal) से बिजली संकट (Power Shortage) पैदा हो गई है। इस ज्यादा असर उत्तरी और बाहरी दिल्ली में ज्‍यादा असर पड़ेगा। वहीं, टाटा पावर दिल्‍ली डिस्‍ट्रीब्‍यूशन लिमिटेड (TPDDL) ने उपभोक्‍ताओं को मैसेज भेजकर कहा कि दोपहर दो बजे से शाम 6 बजे के बीच बिजली सप्‍लाई में दिक्‍कत आ सकती है। इसके साथ उसने लोगों से संयम बरतने की अपील की है। उधर, दिल्ली में कोयला की कमी से बिजली संकट होने की संभावनाओं पर केंद्रीय ऊर्जा मंत्री आरके सिंह (Union Energy Minister RK Singh) ने पूरी तरह गलत बताया है।

उन्होंने कहा कि दिल्ली में ना अभी बिजली का कोई संकट है और ना आने वाले दिनों होगा। उन्होंने कहा कि हमारे पास कोयले का भरपूर स्टॉक है, कोयला संकट को बेवजह प्रचारित किया गया है। बिजली को लेकर चिंता करने की कोई बात नहीं है। कोयले के स्टॉक पर हमारी नजर है।

इस पर दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने कहा कि पूरे देश में कोयले की कमी है लेकिन केंद्र सरकार कह रही है कि कोयले की कोई कमी नहीं है। बिजली घरों से हमें कोयले की कमी की सूचना मिल रही है। अगर केंद्र सरकार ने कोयला संकट को हल नहीं किया तो देश के सामने बहुत बड़ा संकट पैदा हो जाएगा।

आपको बता दें कि शहर को बिजली की आपूर्ति करने वाले उत्पादन संयंत्रों में कोयले और गैस की उचित व्यवस्था होती रहे इसके लिए दिल्‍ली के सीएम अरविंद केजरीवाल ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को हस्तक्षेप करने के लिए पत्र लिखा है।

Next Story