Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

Delhi Pollution Update: दिल्ली की वायु गुणवत्ता बेहद खराब, आज का AQI 300 के पार

Delhi Pollution Update: DPCC के अनुसार एयर क्वालिटी इंडेक्स (AQI) नेहरू नगर में 336 (बहुत खराब), ITO में 342 (बहुत खराब), आर के पुरम में 326 (बहुत खराब) श्रेणी में है।

Delhi Pollution Update: दिल्ली की वायु गुणवत्ता बेहद खराब, आज का AQI 300 के पार
X

 दिल्ली की वायु गुणवत्ता बेहद खराब, आज का AQI 300 के पार

(Delhi Pollution Update) राजधानी दिल्ली की हवा एक बार फिर से प्रदूषित होने लगी है। दिल्ली में प्रदूषण की वजह से एयर क्वालिटी अभी भी बहुत खराब है। बारापुला फ्लाईओवर, सराय काले खान और निज़ामुद्दीन से कुछ ऐसी ही तस्वीरें सामने आई जिसमें से प्रदूषण के चपेट में पूरा शहर नजर आ रहा है। DPCC के अनुसार एयर क्वालिटी इंडेक्स (AQI) नेहरू नगर में 336 (बहुत खराब), ITO में 342 (बहुत खराब), आर के पुरम में 326 (बहुत खराब) श्रेणी में है।

राजधानी में हवा की गति कम होने से प्रदूषण का स्तर एक बार फिर से बढ़ने लगा है। दिल्ली की वायु गुणवत्ता खराब श्रेणी में दर्ज की गई है। भारत मौसम विज्ञान विभाग के अनुसार सोमवार को हवा की गति बेहद धीमी रहने का अनुमान है। पृथ्वी विज्ञान मंत्रालय के वायु गुणवत्ता निगरानी प्रणाली 'सफर' के अनुसार दिल्ली में वायु प्रदूषण में पराली जलाने का योगदान कम होता जा रहा है। मौसम विभाग ने कहा कि न्यूनतम तापमान 10 डिग्री सेल्सियस रहा। अधिकतम तापमान 26 डिग्री सेल्सियस रहने की उम्मीद है।

आपके जानकारी के लिए बता दें कि है कि शून्य से 50 के बीच वायु गुणवत्ता सूचकांक 'अच्छा', 51 से 100 के बीच 'संतोषजनक', 101 से 200 के बीच 'मध्यम', 201 से 300 के बीच 'खराब', 301 से 400 के बीच 'अत्यंत खराब' और 401 से 500 के बीच वायु गुणवत्ता सूचकांक 'गंभीर' श्रेणी में माना जाता है। दिल्ली में वायु गुणवत्ता में सुधार और साफ आकाश का प्रमुख कारण तेज हवाएं और पराली जलाने की घटनाओं में आयी भारी कमी है।

एनसीआर की हवा बेहद खराब

चार दिन की राहत के बाद सोमवार को राष्ट्रीय राजधानी की वायु गुणवत्ता फिर से 'बहुत खराब' श्रेणी में पहुंच गई। सीपीसीबी की 'समीर' ऐप के अनुसार, गाजियाबाद का एक्यूआई 372 दर्ज किया गया, जबकि दिल्ली का एक्यूआई 307, नोएडा का 338, ग्रेटर नोएडा का 344, हापुड़ का 145, फरीदाबाद का 294, गुरुग्राम का 281, आगरा का 237, बल्लभ गढ़ का 186, भिवानी का 297 और मेरठ का एक्यूआई 346 दर्ज किया गया।

Next Story