Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

Delhi Pollution: दिल्ली के पहले स्मॉग टावर के निर्माण में होगी देरी, जानें गोपाल राय ने क्या बताई वजह

Delhi Pollution: दिल्ली मंत्रिमंडल ने पिछले साल अक्टूबर में इसके निर्माण की मंजूरी दी थी। इस 20 मीटर ऊंचे टावर का निर्माण एक किलोमीटर के दायरे में वायु गुणवत्ता को बेहतर बनाने के लिए किया जा रहा है और इसका निर्माण कार्य 15 जून तक पूरा होना था।

Delhi Pollution: दिल्ली के पहले स्मॉग टावर का निर्माण में होगी देरी, जानें गोपाल राय ने क्या बताई वजह
X

दिल्ली के पहले स्मॉग टावर का निर्माण में होगी देरी

Delhi Pollution दिल्ली में प्रदूषण का स्तर बढ़ता जा रहा है। राजधानी में एक फिर से वायु की गुणवत्ता (Delhi Air Quality) खराब होने लगी है। इस बीच, दिल्ली के पर्यावरण मंत्री गोपाल राय (Environment Minister Gopal Rai) ने बृहस्पतिवार को बताया कि कोविड-19 महामारी (Covid Pandemic) के कारण कनाट प्लेस (Cannaught Palce) में बन रहे दिल्ली के पहले स्मॉग टावर (First Smog Tower) के निर्माण में देर हुई है और अब वह 15 अगस्त तक बनकर तैयार होगा। दिल्ली मंत्रिमंडल ने पिछले साल अक्टूबर में इसके निर्माण की मंजूरी दी थी। इस 20 मीटर ऊंचे टावर का निर्माण एक किलोमीटर के दायरे में वायु गुणवत्ता को बेहतर बनाने के लिए किया जा रहा है और इसका निर्माण कार्य 15 जून तक पूरा होना था।

राय ने पत्रकारों से कहा कि कोविड-19 महामारी के कारण स्मॉग टावर का निर्माण कार्य धीमा पड़ा है। यह देश में अपनी तरह का पहला टावर है। इसका काम तेजी से चल रहा है। अब यह 15 अगस्त तक बन कर तैयार हो जाएगा।'' उन्होंने कहा कि स्मॉग टावर को लेकर अलग-अलग विशेषज्ञों की राय अलग-अलग है। राय ने कहा कि यह प्रायोगिक परियोजना है। विशेषज्ञ इसकी उपयोगिता की निगरानी करेंगे, और उसके बाद सरकार ऐसे और टावरों के निर्माण पर निर्णय लेगी।

केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड से मिले आंकड़ों के अनुसार 4 बजे तक वायु गुणवत्ता सूचकांक (एक्यूआई) 173 दर्ज किया गया। गौरतलब है कि शून्य से 50 के बीच के एक्यूआई को अच्छा माना जाता है, 51 से 100 के बीच को संतोषजनक, 101 से 200 के बीच को मध्यम, 201 से 300 के बीच को खराब, 301 से 400 के बीच को बहुत खराब, 401 से 500 के बीच के एक्यूआई को गंभीर श्रेणी में माना जाता है। सोमवार को अधिकतम और न्यूनतम तापमान क्रमश: 42.2 डिग्री सेल्सियस और 28.6 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया था।

Next Story