Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

दिल्ली पुलिस के एसआई ने ऐसे बचाई गर्भवती महिला की जान, पेश की इंसानियत की मिसाल

महज एक ट्वीट पर दिल्ली पुलिस (Delhi Police) के इस जवान ने इंसानियत की मिसाल पेश की है। डॉक्टरों के मुताबिक उसे प्लाज्मा की सख्त जरूरत थी। एसआई ने ओ-पाजिटिव प्लाज्मा दानकर महिला व उसके बच्चे को नया जीवन दिया है। जिसके बाद महिला ने हालत सुधरने के बाद दिल्ली पुलिस और एसआई को फोन कर शुक्रिया कहा है।

दिल्ली पुलिस के एसआई ने ऐसे बचाई गर्भवती महिला की जान, पेश की इंसानियत की मिसाल
X

दिल्ली पुलिस के एसआई ने ऐसे बचाई गर्भवती महिला की जान

दिल्ली में कोरोना (Delh Coronavirus) से जंग में सब एक दूसरे का साथ दे रहे है और सही भी है जब तक हम मदद के लिए आगे नहीं आएंगे कोरोना पर विजय प्राप्त नहीं कर पाएंगे। ऐसी ही एक खबर सामने आई है जहां पर रूप नगर थाने में तैनात एसआई (Delhi Police SI) ने प्लाज्मा देकर कोरोना संक्रमित 21 हफ्ते की गर्भवती महिला (Pregnant Woman) की जान बचाई। इस दिल्ली पुलिस के जवान की पहचान एसआई आकाशदीप (Akashdeep) के तौर पर हुई है। महज एक ट्वीट पर दिल्ली पुलिस (Delhi Police) के इस जवान ने इंसानियत की मिसाल पेश की है। डॉक्टरों के मुताबिक उसे प्लाज्मा की सख्त जरूरत थी। एसआई ने ओ-पाजिटिव प्लाज्मा दानकर (Plasma Donate) महिला व उसके बच्चे को नया जीवन दिया है। जिसके बाद महिला ने हालत सुधरने के बाद दिल्ली पुलिस और एसआई को फोन कर शुक्रिया कहा है।

जानकारी के मुताबिक, द्वारका की रहने वाली सुजाता सुमन 21 हफ्ते की गर्भवती हैं और कोविड पॉजिटिव होने के कारण अस्पताल में भर्ती हैं। डाक्टरों ने हालत में सुधार नहीं होने पर परिजनों से प्लाज्मा की व्यवस्था करने के लिए कहा। जब डोनर की व्यवस्था नहीं हो पाई तो परिजनों ने ट्वीट कर दिल्ली पुलिस से मदद का आग्रह किया। ट्वीट की जानकारी दिल्ली पुलिस की प्लाज्मा डाटा बैंक एप जीवन रक्षक को मिली। तब रूप नगर थाने में तैनात एसआई आकाशदीप ने दिल्ली पुलिस के प्लाज्मा डोनर साइट पर अपना पंजीकरण कराया हुआ था।

सूचना मिलने पर एसआई पहले आईएलबीएस गया जहां से अपना प्लाज्मा लेकर मरीज तक पहुंचाया। फिलहाल महिला की हालत अब ठीक है। उस एसआई को प्लाज्मा देने के लिए धन्यवाद दिया। वहीं, प्लाज्मा दान करने के बाद एसआई ने महिला के पति से मुलाकात की और उनकी जल्द स्वस्थ होने की प्रार्थना की थी। महिला के पति ने बताया कि उसने पिछले दो दिनों में प्लाज्मा की व्यवस्था करने की कोशिश की थी, लेकिन कई से कोई मदद नहीं मिली। उसकी उम्मीद कम होने लगी थी तभी दिल्ली पुलिस ने मदद का हाथ बढ़ाया। जिसके बाद दिल्ली पुलिस के प्रयासों की प्रशंसा हो रही है।

Next Story