Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

Delhi Encounter: पुलिस और बदमाशों के बीच मुठभेड़, अशोक प्रधान गिरोह का सदस्य रोहिणी से गिरफ्तार

Delhi Encounter: पुलिस उपायुक्त (रोहिणी) प्रणव तायल ने बताया कि शुक्रवार रात को यह सूचना मिली थी कि आरोपी रोहिणी सेक्टर 37 के पास आएगा। सब-इंस्पेक्टर चेतन ने अपनी टीम के साथ जाल बिछाया। उन्होंने देखा कि आरोपी एक मोटरसाइकिल से आ रहा है जिसके बाद उन्होंने उसे रोकने की कोशिश की।

Delhi Encounter: पुलिस और बदमाशों के बीच मुठभेड़, अशोक प्रधान गिरोह का सदस्य रोहिणी से गिरफ्तार
X

 पुलिस और बदमाशों के बीच मुठभेड़

Delhi Encounter दिल्ली में पुलिस (Delhi Police) और बदमाशों (Criminals) के बीच मुठभेड़ की खबर सामने आई है। इस दौरान कुख्यात अशोक प्रधान गिरोह (Ashok Pradhan Gang) के एक सदस्य को रोहिणी से गिरफ्तार (One Arrested) किया गया है। इसकी पहचान गौरव उर्फ मोंटी के तौर पर की गई है। ये शातिर बदमाश दिल्ली में गिरोह के अभियानों का नेतृत्व करता था। बवाना पुलिस थाना ने उसे खराब चरित्र वाला घोषित किया था। इसके ऊपर हत्या समेत अपराध के 13 मामलों में शामिल था।

पुलिस ने जवाबी कार्रवाई में गोली मारी

पुलिस उपायुक्त (रोहिणी) प्रणव तायल ने बताया कि शुक्रवार रात को यह सूचना मिली थी कि आरोपी रोहिणी सेक्टर 37 के पास आएगा। सब-इंस्पेक्टर चेतन ने अपनी टीम के साथ जाल बिछाया। उन्होंने देखा कि आरोपी एक मोटरसाइकिल से आ रहा है जिसके बाद उन्होंने उसे रोकने की कोशिश की। उन्होंने बताया कि आरोपी ने पुलिस पर तीन गोलियां चलाईं। पुलिस ने भी स्थिति को नियंत्रित करने के लिए जवाब में छह गोलियां दागीं। पुलिस ने बताया कि मुठभेड़ के दौरान गैंगस्टर गोली लगने से घायल हो गया।

पिस्तौल और कारतूस बरामद

उसे काबू में करने के बाद पकड़ लिया गया। तायल ने बताया कि पुलिसकर्मियों पर गोली चलाने के लिए गौरव ने जिस पिस्तौल का इस्तेमाल किया था उसे जब्त कर लिया गया है जिसमें चार कारतूस भी थे। पुलिस के अनुसार आरोपी शुरू में राजेश बवाना गिरोह में शामिल हुआ था और बाद में वह अशोक प्रधान गिरोह का हिस्सा बन गया। उन्होंने बताया कि वह जून में यहां के कुतुबगढ़ गांव में फिरौती और लूटपाट-सह-हत्या के एक मामले का मुख्य कर्ताधर्ता था।

Next Story