Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

Delhi Oxygen Crisis: दिल्ली के 41 अस्पतालों ने ऑक्सीजन की किल्लत को लेकर जताई चिंता, खतरे में हजारों मरीजों की जान

Delhi Oxygen Crisis: दिल्ली के अस्पतालों ने ऑक्सीजन के लिए हाईकोर्ट से मदद की गुहार लगाई हैं। लेकिन फिर भी कोई रास्ता निकलता नहीं दिखाई दे रहा है। ऐसे में किसी भी अस्पताल में बड़ी घटना होने का खतरा मंडरा रहा है। कोरोन से स्थिति इतनी खराब हो गई है कि दिल्ली के करीब 41 अस्पतालों ऑक्सीजन की कमी की चिंता जाहिर की। जहां हजारों मरीज भर्ती है।

Delhi Oxygen Crisis: दिल्ली के 41 अस्पतालों ने ऑक्सीजन की किल्लत को लेकर जताई चिंता, खतरे में हजारों मरीजों की जान
X

दिल्ली के 41 अस्पतालों ने ऑक्सीजन की किल्लत को लेकर जताई चिंता

Delhi Oxygen Crisis दिल्ली में कोरोना (Corona Pandemic) से हर तरफ त्राहीमाम मचा हुआ है। वहीं अस्पतालों में ऑक्सीजन (Delhi Hospitals) की किल्लत अभी भी बनी हुई है। दिल्ली के अस्पतालों ने ऑक्सीजन के लिए हाईकोर्ट (Delhi High Court) से मदद की गुहार लगाई हैं। लेकिन फिर भी कोई रास्ता निकलता नहीं दिखाई दे रहा है। ऐसे में किसी भी अस्पताल में बड़ी घटना होने का खतरा मंडरा रहा है। कोरोन से स्थिति इतनी खराब हो गई है कि दिल्ली के करीब 41 अस्पतालों ने ऑक्सीजन की कमी पर चिंता जाहिर की। जहां हजारों मरीज भर्ती है। ऑक्सीजन की कमी को लेकर राघव चड्ढा ने कहा था कि दिल्ली को कुल 433 मीट्रिक टन ऑक्सीजन मिली, जो कि उसकी कुल मांग 976 एमटी का 44 फीसदी है। ऐसे में उनके पास कुल 41 अस्पतालों से एसओएस मैसेज आए, जिन्होंने ऑक्सीजन की कमी की बात कही।

ऑक्सीजन एक्सप्रेस टैंकर लेकर दिल्ली पहुंची

दिल्ली के कई अस्पताल अब भी ऑक्सीजन संकट बरकरार है। अस्पतालों ने अधिकारियों से ऑक्सीजन आपूर्ति को लेकर गुहार लगाई और कहा कि ऑक्सीजन की किल्लत के चलते उनके मरीजों की जान दांव पर लगी हुई है। इसी बीच, बुधवार तड़के सुबह ऑक्सीजन के टैंकर लेकर ऑक्सीजन एक्सप्रेस दिल्ली के कैंट रेलवे स्टेशन पहुंची। अब इन टैंकरों को दिल्ली सरकार के अधिकारियों के सुपर्द्व किया जाएगा। दिल्ली प्रशासन के अधिकारी आगे जहां जरूरत होगी वहां इन टैंकर को पहुंचाने का काम करेंगे।

ऑक्सीजन वितरण के लिए तीन आईएएस अधिकारी नियुक्त

दिल्ली सरकार के वरिष्ठ स्वास्थ्य अधिकारियों ने ऑक्सीजन की आपूर्ति और स्वास्थ्य सेवा प्रबंधन को लेकर बैठक की। इसके संबंध में सीएम अरविंद केजरीवाल के नेतृत्व में दिल्ली सरकार ने पर्याप्त ऑक्सीजन आपूर्ति और बेहतर वितरण सुनिश्चित करने के लिए तीन आईएएस अधिकारियों और 20 से अधिक कॉल सेंटर कर्मचारियों को नियुक्त किया है और ऑक्सीजन आपूर्ति प्रबंधन को बेहतर करने पर काम कर रही है। दिल्ली सरकार का कहना है कि राष्ट्रीय राजधानी में ऑक्सीजन के वितरण के नेटवर्क में सुधार करने के लिए चौबीसों घंटे काम किया जा रहा है।

Next Story