Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

Oxygen Concentrator: सांस के सौदागरों पर ED का शिकंजा, अब नवनीत कालरा पर धन शोधन का मामला दर्ज

Oxygen Concentrator: आधिकारिक सूत्रों ने कहा कि धन शोधन निरोधक अधिनियम (पीएमएलए) की विभिन्न धाराओं के तहत कालरा और उसके सहयोगियों के खिलाफ एक आपराधिक मामला दर्ज किया गया है। प्रवर्तन निदेशालय इस मामले में रुपयों के लेनदेन की कड़ी की तफ्तीश करेगी। उन्होंने कहा कि एजेंसी यह जांच करेगी कि क्या ऑक्सीजन कंसंस्ट्रेटर को अवैध रूप से जमा किया गया।

Oxygen Concentrator: सांस के सौदागरों पर ED का शिकंजा, अब नवनीत कालरा पर धन शोधन का मामला दर्ज
X

 सांस के सौदागरों पर ED का शिकंजा

Oxygen Concentrator दिल्ली में खान चाचा रेस्त्रां (Khan Chacha) के मालिक नवनीत कालरा (Navneet kalra) की और मुश्किलें बढ़ गई है। अबर प्रवर्तन निदेशालय (ED) ने कालरा पर शिकंजा कसना शुरू कर दिया है। ईडी ने ऑक्सीजन कंसंस्ट्रेटर की कथित जमाखोरी और कालाबाजारी (Black Marketing) के एक हालिया मामले में कारोबारी नवनीत कालरा और उसके सहयोगियों के खिलाफ धन शोधन (Money Laundering) का मामला दर्ज किया है। केंद्रीय एजेंसी ने कालरा से संबंधित एक रेस्तरां और कुछ परिसरों पर दिल्ली पुलिस (Delhi Police) द्वारा पांच मई को की गई छापेमारी और वहां से पांच सौ से ज्यादा जीवन रक्षक उपकरण बरामद किये जाने के बाद दर्ज मामले पर संज्ञान लिया।

ईडी मामले में रुपयों के लेनदेन की जांच करेगी

आधिकारिक सूत्रों ने कहा कि धन शोधन निरोधक अधिनियम (पीएमएलए) की विभिन्न धाराओं के तहत कालरा और उसके सहयोगियों के खिलाफ एक आपराधिक मामला दर्ज किया गया है। प्रवर्तन निदेशालय इस मामले में रुपयों के लेनदेन की कड़ी की तफ्तीश करेगी। उन्होंने कहा कि एजेंसी यह जांच करेगी कि क्या ऑक्सीजन सांद्रकों को अवैध रूप से जमा किया गया और कोरोना मरीजों के परिजनों के ऊंची कीमतों पर इसे बेचा गया और इस तरह अपराध के जरिये धन प्राप्त किया गया जैसा की पीएमएलए में परिभाषित है। सूत्रों ने कहा कि दोनों एजेंसियों- ईडी और दिल्ली पुलिस के बीच मूल दस्तावेजों और सूचनाओं का आदान-प्रदान किया जा चुका है।

नवनीत कालरा को पुलिस ने किया था गिरफ्तार

दिल्ली पुलिस ने कोरोना वायरस महामारी के बीच ऑक्सीजन कंसंस्ट्रेटर की कथित तौर पर जमाखोरी करने और उनकी कालाबाजारी करने के आरोपी कारोबारी नवनीत कालरा को रविवार रात गिरफ्तार कर लिया। दिल्ली में उसके तीन रेस्तरां से कुछ दिन पहले 500 से अधिक ऑक्सीजन कंसंस्ट्रेटर जब्त हुए थे और वह उसके बाद फरार था। ऑक्सीजन कंसंस्ट्रेटर कोविड-19 मरीजों के इलाज में महत्वपूर्ण उपकरण माने जाते हैं और संक्रमण की दूसरी लहर में इनकी भारी मांग है। दिल्ली हाईकोर्ट ने शुक्रवार को कालरा को गिरफ्तारी से अंतरिम राहत देने से इनकार कर दिया था।

Next Story