Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

Delhi News: दिल्ली में वारदातों पर लगेगा 'अंकुश', पुलिस ने शुरू किया यह स्पेशल अभियान, 11 लोग गिरफ्तार

Delhi News: दिल्ली पुलिस ने राजधानी के उत्तर-पूर्वी जिले में अपराध और अपराधियों पर लगाम लगाने के लिए इस अभियान को लागू करने का फैसला किया गया है। पुलिस अधिकारियों ने यह जानकारी दी। उन्होंने कहा कि अंकुश अभियान 16-17 अक्टूबर की मध्यरात्रि को शुरू किया गया।

Delhi News: दिल्ली में वारदातों पर लगेगा
X

दिल्ली में वारदातों पर लगेगा 'अंकुश', पुलिस ने शुरू किया यह स्पेशल अभियान

Delhi News दिल्ली में कानून व्यवस्था को ओर पुख्ता और मजबूत बनाने के लिए पुलिस (Delhi Police) द्वारा एक अभियान की शुरुआत की गई है। इसका नाम अंकुश अभियान (Ankush Campaign) दिया गया है। इस अभियान के तहत दिल्ली में बढ़ते अपराध (Crime) को रोकना है। दिल्ली पुलिस ने राजधानी के उत्तर-पूर्वी जिले में अपराध और अपराधियों पर लगाम लगाने के लिए इस अभियान को लागू करने का फैसला किया गया है। पुलिस अधिकारियों ने यह जानकारी दी। उन्होंने कहा कि अंकुश अभियान 16-17 अक्टूबर की मध्यरात्रि को शुरू किया गया।

सार्वजनिक जगहों पर शराब पीने के मामले में 60 लोग हिरासत में लिया गया

उत्तर-पूर्वी दिल्ली के पुलिस उपायुक्त संजय कुमार सैन ने कहा कि इस नए अभियान के तहत, शस्त्र अधिनियम के तहत 11 प्राथमिकी दर्ज की गईं और 11 लोगों को गिरफ्तार किया गया। इसके अलावा दो देसी पिस्तौल व चाकू आदि बरामद किए गए। पुलिस उपायुक्त के मुताबिक अवैध शराब बेचने के आरोप में अन्य छह मामले दर्ज किए गए तथा 60 लोगों पर आबकारी अधिनियम के तहत सार्वजनिक स्थानों पर शराब का सेवन करने के आरोप में मामला दर्ज किया गया। राष्ट्रीय स्वापक औषधि एवं मन: प्रभावी पदार्थ (एनडीपीएस) अधिनियम के तहत मादक पदार्थों की बिक्री के सिलसिले में पांच मामले दर्ज किए गए।

किशोरी को मानव तस्करों के चंगुल से छुड़ाया

दिल्ली पुलिस की अपराध शाखा की मानव तस्करी रोधी इकाई ने 15 वर्षीय एक लड़की को राजस्थान से मानव तस्करों के चंगुल से मुक्त करा लिया। पीड़ित किशोरी को दो लोगों ने कथित तौर पर अगवा कर 60 हजार रुपये में बेच दिया था। पुलिस के मुताबिक दिल्ली के हैदरपुर स्थित अपने घर से लड़की के लापता होने के बाद 16 सितंबर को अपहरण का मामला दर्ज किया गया था। इसके बाद यह मामला पुलिस की मानव तस्करी रोधी इकाई (एएचटीयू) को हस्तांतरित कर दिया गया, जिसने जांच के तहत पीड़िता के रिश्तेदारों और दोस्तों से मुलाकात की।

Next Story