Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

Delhi News: दिल्ली के तिहाड़ जेल में बढ़ रहे बदमाशों और गैंगस्टरों की तादाद, अधिक संख्या में सुरक्षा के लिए फोर्स होंगी तैनात

Delhi News: जेलों में स्टाफ के अलावा तमिलनाडु स्पेशल पुलिस यानी टीएसपी, आईटीबीपी और सीआरपीएफ के फोर्स की तैनाती की जा रही हैं। फिलहाल वर्तमान में तिहाड़ जेल में सबसे अधिक टीएसपी के जवान तैनात किए गए हैं।

Delhi News: तिहाड़ जेल में बड़ा एक्शन, इस मामले में 30 अधिकारी निलंबित, 3 की गई नौकरी
X

तिहाड़ जेल में बड़ा एक्शन

Delhi News एशिया के सबसे बड़े जेल तिहाड़ (Tihar Jail) में कुख्यात बदमाशों और गैंगस्टरों (Miscreants and Gangsters) की तादाद बढ़ती जा रही है। जिसके कारण यहां सुरक्षा की कमी का आभाव होने लगा है। वहीं, आए दिन यहां से गैंगवार और आपसी झड़प की खबरें सामने आ रही है। इससे तिहाड़ जेल का माहौल खराब हो रहा है। वहीं दूसरे कैदियों की जान पर भी खतरा मंडराने लगा हैं। इसलिए जेलों में स्टाफ के अलावा तमिलनाडु स्पेशल पुलिस यानी टीएसपी, आईटीबीपी और सीआरपीएफ के फोर्स (CRPF Force) की तैनाती की जा रही हैं। फिलहाल वर्तमान में तिहाड़ जेल में सबसे अधिक टीएसपी के जवान तैनात किए गए हैं।

सूत्रों के मुताबिक, भविष्य में भी सुरक्षा को पुख्ता करने के लिए टीएसपी के जवानों को ही और अधिक बढ़ाने पर विचार किया जा रहा है, क्योंकि यह जवान न तो कैदियों की भाषा समझ पाते हैं और न ही कैदी उनकी भाषा जान पाते है। ऐसे में इनकी सेवा जेल प्रशासन के लिए अन्य फोर्स के लिए अच्छी बात साबित हो रही है। आपको बता दें कि आज ही तिहाड़ जेल में बंद रहते हुए हाई प्रोफाइल चीटर सुकेश चंद्रशेखर ने 200 करोड़ रुपए तक की रंगदारी वसूली की है। ये दिल्ली में किसी भी अपराधी के लिए रंगदारी मांगने का सबसे बड़ा रिकॉर्ड है, जिसके बाद जांच एजेंसियों की नींद उड़ गई है। हालांकि अब ईडी भी इस जालसाज का पूरा ब्योरा चेक कर रही है।

जेल में मोबाइल फोन मिलने के बाद से जेल प्रशासन से जुड़े कुछ अधिकारी रडार पर हैं। उधर, सूत्रों ने बताया कि ऐसा नहीं है कि तिहाड़ जेल की मौजूदा फोर्स कम है, लेकिन जिस गति से दिल्ली पुलिस खतरनाक बदमाशों और गैंगस्टर्स को पकड़ रही है। उसको देखते हुए मौजूदा सुरक्षा में कमी महसूस होती है। पिछले दिनों तिहाड़ जेल में एक कैदी की हुई हत्या, रोहिणी जेल में कैदी से मिले दो मोबाइल और मंडोली जेल में कैदी द्वारा जेल के एक अफसर को ही फोन करने की घटना, इन तमाम घटनाक्रम को देखते हुए फोर्स को बढ़ाने की बात की जा रही है।

Next Story