Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

Delhi News: CM केजरीवाल ने पुनर्विकास के बाद चांदनी चौक का किया उद्घाटन, सत्येंद्र जैन रहे मौजूद

Delhi News: पुनर्विकास परियोजना (Redevelopment Project) के तहत लाल किले से फतेहपुरी मस्जिद तक चांदनी चौक के 1.3 किलोमीटर लंबे हिस्से का सौंदर्यीकरण और मरम्मत का कार्य किया गया है और इससे दोबारा से बनाया गया है। इस बीच, दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने (CM Arvind Kejriwal) पुनर्विकास के बाद चांदनी चौक का उद्घाटन (Inaugurates) किया।

Delhi News: CM केजरीवाल ने पुनर्विकास के बाद चांदनी चौक का किया उद्घाटन, सत्येंद्र जैन रहे मौजूद
X

 CM केजरीवाल ने पुनर्विकास के बाद चांदनी चौक का किया उद्घाटन, सत्येंद्र जैन रहे मौजूद

Delhi News दिल्ली में चांदनी चौक (Chandni Chowk) का फिर से पुनर्विकास किया गया है। पुनर्विकास परियोजना (Redevelopment Project) के तहत लाल किले से फतेहपुरी मस्जिद तक चांदनी चौक के 1.3 किलोमीटर लंबे हिस्से का सौंदर्यीकरण और मरम्मत का कार्य किया गया है और इससे दोबारा से बनाया गया है। इस बीच, दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने (CM Arvind Kejriwal) पुनर्विकास के बाद चांदनी चौक का उद्घाटन (Inaugurates) किया।

इस दौरान शहरी विकास मंत्री सत्येंद्र जैन (Satyendar Jain) भी मौजूद रहे। अब दिल्ली में चांदनी चौक का रंग रूप बदल गया है। वहीं भीड़ भाड़ और प्रदुषण को ध्यान में रखकर इसका निर्माण किया गया है। अब चांदनी चौक के नए रूप में मोटर गाड़ियों को सुबह 9 से रात 9 बजे तक इस इलाक़े में दाखिल होने की इजाज़त नहीं मिलेगी। अगर कोई गाड़ी इस इलाक़े में दाखिल होती है तो उसे नए मोटर व्हीकल एक्ट के तहत भारी जुर्माने की भरपाई करनी पड़ेगी। अब चांदनी चौक रीडवेलोप्मेन्ट प्लान के तहत इस इलाक़े का पूरा रंग रूप ही बदला नज़र आएगा।

चांदनी चौक के सौंदर्यीकरण के लिए जो ढांचा तैयार किया गया है उसके तहत कंक्रीट की सड़क से ले कर फर्नीचर तक सब लाल रंग का चढ़ाया गया है। ये इसलिए किया जा रहा है ताकी सड़क और सड़क पर लगे फर्नीचर का रंग लाल किले से मेल खाए। इस सबकी लागत बढ़ कर 90 करोड़ हो गई है।

आपको बता दें कि आज से दो साल पहले 2018 में दिल्ली सरकार ने चांदनी चौक के पुर्नविकास का कार्य शुरू किया था। इसके तहत लगभग 13 सौ मीटर के एरिया का रीडिवेलपमेंट रोड बनकर तैयार हुआ जो के लाल किले के बिलकुल सामने जैन मंदिर से ले कर फतेहपुरी मस्जिद तक पुनर्विकास किया गया है।

Next Story