Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

दिल्ली में Sputnik-V वैक्सीन के लिए करना होगा और इंतजार, जानें क्या है वजह

अपोलो हॉस्पिटल्स के एक प्रवक्ता ने कहा कि हमें टीकाकरण संबंधी तिथियों के बारे में स्पष्ट रूप से जानकारी नहीं है। इससे पहले, यहां इंद्रप्रस्थ अपोलो ने कहा था कि वह वह स्पूतनिक वी टीका लगभग 25 जून तक लगाना शुरू कर देगा। मधुकर रेनबो चिल्ड्रन्स हॉस्पिटल' के एक अधिकारी ने बताया कि अस्पताल को हैदराबाद स्थित डॉ. रेड्डीज लैबोरेटरीज से स्पूतनिक वी की खुराक अभी नहीं मिली है।

दिल्ली में Sputnik-V वैक्सीन के लिए करना होगा और इंतजार, जानें क्या है वजह
X

स्पुतनिक-वी

Delhi Corona Vaccination Campaign दिल्ली में कोरोना वायरस (Delhi Coronavirus) से बचने के लिए वैक्सीन लगाना बेहद जरूरी है। वहीं दिल्ली में वैक्सीन अभियान में तेजी देखी जा रही है। लेकिन दिल्ली-एनसीआर क्षेत्र के विभिन्न निजी अस्पतालों में कोविड-19 वैक्सीन रूसी टीका 'स्पूतनिक-वी' (Sputnik-V) लगाए जाने की प्रक्रिया में देरी हो गई है। अपोलो हॉस्पिटल्स (Delhi Hospitals) के एक प्रवक्ता ने कहा कि हमें टीकाकरण संबंधी तिथियों के बारे में स्पष्ट रूप से जानकारी नहीं है।

इससे पहले, यहां इंद्रप्रस्थ अपोलो ने कहा था कि वह वह स्पूतनिक वी टीका लगभग 25 जून तक लगाना शुरू कर देगा। मधुकर रेनबो चिल्ड्रन्स हॉस्पिटल' के एक अधिकारी ने बताया कि अस्पताल को हैदराबाद स्थित डॉ. रेड्डीज लैबोरेटरीज से स्पूतनिक वी की खुराक अभी नहीं मिली है। उल्लेखनीय है कि डॉ. रेड्डीज लैबोरेटरीज देश में इस टीके की विपणन साझेदार है। अधिकारी ने कहा कि आपूर्तिकर्ताओं की ओर से देरी हो रही है। उन्होंने इसका कोई विशेष कारण नहीं बताया है। मुझे लगता है कि इसका कारण टीके की दोनों खुराकों की एक साथ आपूर्ति करना हो सकता है।

स्पूतनिक वी में दो अलग-अलग वायरस का उपयोग किया गया है जो मनुष्यों में सामान्य सर्दी (एडेनोवायरस) का कारण बनते हैं। इस टीके की 21 दिन के अंतराल पर दी जाने वाली दोनों खुराक अलग-अलग हैं और इन्हें आपस में बदला नहीं जा सकता। फोर्टिस हेल्थकेयर ने कहा था कि वह गुरुग्राम और मोहाली स्थित अपने अस्पतालों में स्पूतनिक वी उपलब्ध कराएगा, लेकिन उसने भी अब तक लोगों को रूसी टीका देना शुरू नहीं किया है।

Next Story