Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

Air Pollution : दिल्ली-NCR की हवा 'बेहद खराब' श्रेणी में बरकरार, AQI 350 के पार दर्ज

कई दिनों से जहरीली गैस (Toxic gas) की सांस ले रही दिल्ली ने मंगलवार को मामूली राहत दर्ज की है। आज सुबह हवाएं चलने से ठंड तो बड़ी है लेकिन वायु गुणवत्ता सूचकांक (quality index) बेहद खराब श्रेणी (very poor category) में ही बना हुआ।

Air Pollution : दिल्ली-NCR की हवा बेहद खराब श्रेणी में बरकरार, AQI 350 के पार दर्ज
X

कई दिनों से जहरीली गैस (Toxic gas) की सांस ले रही दिल्ली ने मंगलवार को मामूली राहत दर्ज की है। आज सुबह हवाएं चलने से ठंड तो बड़ी है लेकिन वायु गुणवत्ता सूचकांक (quality index) बेहद खराब श्रेणी (very poor category) में ही बना हुआ। माना जा रहा है कि अगर हवाएं इसी रफ्तार से चलती रहीं तो दोपहर में वायु प्रदूषण (air pollution) के स्तर में कुछ सुधार हो सकता है, लेकिन फिलहाल स्थिति नियंत्रण से बाहर ही रहेगी।

यानी एयर क्वालिटी इंडेक्स (air quality index) 300 से नीचे नहीं जाएगा। दिल्ली में मंगलवार को एयर क्वालिटी इंडेक्स 362 है। सोमवार को हवा की रफ्तार थोड़ी बढ़ी तो प्रदूषण की परत भी थोड़ी कम हुई। दिल्ली समेत एनसीआर के शहरों में भी एयर इंडेक्स 400 से नीचे यानी बेहद खराब श्रेणी में दर्ज किया गया। पीएम 2.5 के स्तर में पराली के धुएं की हिस्सेदारी भी न के बराबर थी।

सफ़र इंडिया के अनुसार प्रचलित हवाओं के बावजूद वायु सूचकांक एक-दो दिन इसी श्रेणी में रहने की संभावना है। केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड की ओर से जारी एयर क्वालिटी बुलेटिन (air quality bulletin) के मुताबिक सोमवार को दिल्ली का एयर इंडेक्स 389 रहा। यह रविवार के 405 से 16 अंक कम था। इसके अलावा, एनसीआर के अन्य शहरों का एयर इंडेक्स भी 276 से 395 के बीच दर्ज किया गया।

सोमवार को दिल्ली में पीएम 2.5 का स्तर 215 था जबकि पीएम 10 का स्तर 348 माइक्रोग्राम (microgram) प्रति क्यूबिक मीटर था। मौसम विभाग (meteorological department) के अनुसार सोमवार को सफदरजंग और पालम हवाईअड्डों (Palam airports) पर हवा की गति 10 से 15 किमी प्रति घंटे थी। बीच-बीच में हवा की गति शांत से धीमी गति से चलती रही।

हवा की दिशा पश्चिम से दक्षिण पश्चिम की ओर थी। सफदरजंग हवाई अड्डे (Safdarjung airport) पर दृश्यता का स्तर सुबह 300-800 मीटर और बाद में 1,500 से 2,500 मीटर तक था, जबकि पालम हवाई अड्डे पर यह सुबह 900 से 1200 मीटर और बाद में 1,500 से 5,500 मीटर तक था।

Next Story