Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

Delhi MCD Election 2022: बीजेपी ने दिल्ली सरकार पर किया जोरदार हमला, संबित पात्रा ने सीएम केजरीवाल से पूछे तीखे सवाल

Delhi MCD Election 2022: संबित पात्रा ने कहा कि अप्रैल और मई में दिल्ली के 3 नगर निगमों द्वारा लगभग 34,750 मृत्यु प्रमाण पत्र जारी किए गए हैं लेकिन दिल्ली सरकार के सरकारी आंकड़े 9,916 प्रमाण पत्र हैं। मृतकों के जो आंकड़े दिखाए गए और जो वास्तविक संख्या है उसमें 250 फीसदी बढ़ोतरी है।

Delhi MCD Election 2022: बीजेपी ने दिल्ली सरकार पर किया जोरदार हमला, संबित पात्रा ने सीएम केजरीवाल से पूछे तीखे सवाल
X

बीजेपी ने दिल्ली सरकार पर किया जोरदार हमला

Delhi MCD Election 2022 दिल्ली में अगले साल यानि 2022 में तीनों नगर निगमों के चुनाव होने वाले है। इस चुनाव को लेकर अभी से ही बीजेपी और आम आदमी पार्टी (BJP And AAP) ने एक दूसरे पर आरोप-प्रत्यारोप लगाया शुरू कर दिया है। इस बीच, भाजपा के प्रवक्ता संबित पात्रा (BJP Speaker Sambit Patra) ने आज प्रेस कॉन्फ्रेंस कर दिल्ली सरकार (Delhi Government) पर ताबड़तोड़ हमले किए है। उन्होंने सीएम अरविंद केजरीवाल (CM Arvind Kejriwal) से कोरोना से हुई मौतों पर श्वेत पत्र जारी करने की मांग रखी। साथ ही उन्होंने कोरोना से हुई मौतों के आंकड़ों को लेकर कई सवाल पूछे हैं। उन्होंने कहा कि किस प्रकार से सैंकड़ों लोगों की मृत्यु होती है और किस प्रकार से इन आंकड़ों को छुपाया जाता है और कोई भी इसके लिए उत्तरदायी नहीं है। इस प्रकार का एक चित्रण दिल्ली की सरकार हम सबके सामने रखने का प्रयास कर रही है।

संबित पात्रा ने आगे कहा कि अप्रैल और मई में दिल्ली के 3 नगर निगमों द्वारा लगभग 34,750 मृत्यु प्रमाण पत्र जारी किए गए हैं लेकिन दिल्ली सरकार के सरकारी आंकड़े 9,916 प्रमाण पत्र हैं। मृतकों के जो आंकड़े दिखाए गए और जो वास्तविक संख्या है उसमें 250 फीसदी बढ़ोतरी है। 2 महीनों के कोविड के सरकारी आंकड़े 13,201 रहे। नगर निगम के आंकड़ों और आधिकारिक आंकड़ों का अंतर 21,549 है। 21,000 से अधिक मौतों का कोई हिसाब देने को तैयार नहीं है। दिल्ली की सरकार इस पर सफाई दे। कोरोना से मृत्युदर पूरे हिंदुस्तान में सर्वाधिक दिल्ली में है और दूसरे स्थान पर पंजाब है।

दिल्ली में यह 2.9 प्रतिशत है और राष्ट्रीय फैटेलिटी रेट 1.3 प्रतिशत है। इसका मतलब दिल्ली में यह दोगुने से भी अधिक है। क्या कारण है कि दिल्ली में इतनी मृत्यु हुई है। संबित पात्रा ने सवाल किया कि, केजरीवाल क्या ये हकीकत है कि जिस समय कोविड की दूसरी लहर अपने चरम पर थी, जानबूझकर और अपनी सरकार की साख को बचाने के लिए आपने दिल्ली में टेस्टिंग की संख्या को कम कर दिया? पात्रा ने आरोप लगाया कि, अरविंद केजरीवाल ने कहा था कि हम दिल्ली में ऑक्सीजन की होम डिलीवरी करेंगे। लेकिन आज आप शराब की होम डिलीवरी कर रहे हैं। दवाओं, ऑक्सीजन की होम डिलीवरी में आप सफल नहीं रहे हैं।

Next Story