Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

युवक ने तोड़ी भगवान हनुमान की 3 मूर्तियां, पुलिस ने किया गिरफ्तार तो सामने आई चौंकाने वाली वजह

अधिकारी ने कहा कि हमें ककरौला इलाके में तीन स्थानों पर मूर्तियों को क्षतिग्रस्त किये जाने के बारे में सुबह करीब 7 बजकर 45 मिनट पर सूचना मिली थी। पुलिस के अनुसार आरोपी ने पूछताछ के दौरान बताया कि वह इस साल अब तक बारिश नहीं होने और दिन-प्रतिदिन गर्मी बढ़ने के चलते भगवान से नाराज था।

युवक ने तोड़ी भगवान हनुमान की 3 मूर्तियां, पुलिस ने किया गिरफ्तार तो सामने आई चौंकाने वाली वजह
X

युवक ने तोड़ी भगवान हनुमान की 3 मूर्तियां

Delhi Kakraula Village दिल्ली में एक बार फिर से भगवान से नाराज होकर उनपर गुस्सा निकालने का मामला सामने आया है। दक्षिण-पूर्वी दिल्ली के ककरौला गांव में तापमान बढ़ने (Increasing Temperature) और बारिश (Rain) न होने के कारण 'भगवान से नाराज' एक व्यक्ति ने भगवान हनुमान (Lord Hanuman) की तीन मूर्तियों (Damaged Three Statues) को क्षतिग्रस्त कर दिया, जिसके चलते मंगलवार को उसे जेल (Arrested) भेज दिया गया। पुलिस (Police) ने कहा कि आरोपी की पहचान भरत विहार जेजे कॉलोनी के निवासी महेश (50) के रूप में हुई है।

पुलिस के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि मंगलवार सुबह एक पुजारी ने इसकी जानकारी दी, जिसने ककरौला में आसपास के तीन स्थानों पर क्षतिग्रस्त मूर्तियों को सबसे पहले देखा था। अधिकारी ने कहा कि हमें ककरौला इलाके में तीन स्थानों पर मूर्तियों को क्षतिग्रस्त किये जाने के बारे में सुबह करीब 7 बजकर 45 मिनट पर सूचना मिली थी। पुलिस के अनुसार आरोपी ने पूछताछ के दौरान बताया कि वह इस साल अब तक बारिश नहीं होने और दिन-प्रतिदिन गर्मी बढ़ने के चलते भगवान से नाराज था।

घटना के बाद स्थानीय लोगों, नेताओं और बजरंग दल से जुड़े व्यक्तियों समेत लोगों का एक समूह द्वारका मोड़ पर जमा हो गया और यातायात रोक दिया। पुलिस ने कहा कि मामला शांत कर वाहनों की आवाजाही शुरू करवा दी गई। पुलिस उपायुक्त (द्वारका) संतोष मीणा ने कहा कि आरोपी के खिलाफ भारतीय दंड संहिता की धारा 295 और 295ए के तहत मामला दर्ज उसे गिरफ्तार कर लिया गया है। वारदात में इस्तेमाल की गई कुल्हाड़ी भी बरामद कर ली गई है। आपको बता दें कि इससे पहले भी पंजाब बाग में भगवान से नाराज होकर मंदिर पर एक युवक ने पथराव किया था। उसके बाद युवक को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया था।

Next Story