Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

दिल्ली सरकार की नई पहल- DTC और क्लस्टर बसों में ऑनलाइन टिकट खरीदने पर मिलेगी इतने की छूट

दिल्ली सरकार का संपर्क रहित ई-टिकटिंग ऐप बसों के आगमन का अपेक्षित समय (ईटीए) और निकटतम उपलब्ध इलेक्ट्रिक वाहन (ईवी) चार्जिंग स्टेशनों के बारे में जानकारी भी दिखाता है और यह अंग्रेजी और हिंदी दोनों में भाषाओं में उपलब्ध है।

दिल्ली सरकार की नई पहल- DTC और क्लस्टर बसों में ऑनलाइन टिकट खरीदने पर मिलेगी इतने की छूट
X

दिल्ली सरकार की नई पहल

दिल्ली सरकार (Delhi Government) ने डीटीसी और क्लस्टर बसों (DTC And Cluster Buses) यात्रा करने वालों यात्रियों (Passenger) को और सुविधा देने जा रही है। एक नई पहल के साथ ही डीटीसी और क्लस्टर बसों के टिकट ऐप के जरीए खरीद पर दस फीसदी की छूट (10 Percent Discount) मिलेगी। इस बात की जानकारी दिल्ली सरकार ने दी है। उन्होंने कहा कि ई-टिकटिंग मोबाइल ऐप (E-Ticketing Mobile App) के जरिए खरीदे गए टिकटों पर डीटीसी और क्लस्टर बसों के किराए में 10 फीसदी की छूट को मंजूरी दे दी। आपको बता दें कि दिल्ली सरकार के कॉन्टैक्टलेस टिकटिंग ऐप का व्यापक परीक्षण विशेष रूप से गठित एक टास्क फोर्स के जरिए किया जा रहा है। दिल्ली में जुलाई 2020 से किए जा रहे इस परीक्षण में जो आंकड़े सामने आए हैं उसके अनुसार अब तक कुल खरीदे गए टिकटों का 6 फीसदी ऐप के माध्यम से खरीदा गया है।

परिवहन मंत्री कैलाश गहलोत ने कहा- इस फैसले से कोरोना के प्रसार में आएगी रुकावट

दिल्ली सरकार का संपर्क रहित ई-टिकटिंग ऐप बसों के आगमन का अपेक्षित समय (ईटीए) और निकटतम उपलब्ध इलेक्ट्रिक वाहन (ईवी) चार्जिंग स्टेशनों के बारे में जानकारी भी दिखाता है और यह अंग्रेजी और हिंदी दोनों में भाषाओं में उपलब्ध है। दिल्ली के परिवहन मंत्री कैलाश गहलोत ने इस निर्णय को विशेष रूप से कोविड-19 महामारी के दौरान सतह के संपर्क के माध्यम से प्रसार को कम करने के लिए स्वागत योग्य कदम करार दिया।

इस योजना से डाटा मैनेजमेंट और मॉनिटरिंग में होगी आसानी

दिल्ली में डीटीसी और क्लस्टर बसों की संख्या 6750 बसें हैं। इनमें रोज औसतन 49 लाख लोग यात्रा करते हैं। कोविड महामारी के मद्देनजर टिकट खरीदते समय यात्रियों और बस कर्मचारियों के बीच कम से कम संपर्क हो, यह सुनिश्चित करने के लिए ऐप-आधारित टिकट का सिस्टम जरूरी था। अब सभी बसों में निगरानी और ट्रैकिंग केंद्रीकृत नियंत्रण केंद्र द्वारा किया जा रहा है। ऐसे में ऐप के जरिये टिकट बुकिंग से डाटा मैनेजमेंट और मॉनिटरिंग में आसानी होगी। ई टिकटिंग से टिकटों की छपाई, भंडारण तंत्र आदि पर होने वाले खर्च की भी बचत होगी।

Next Story