Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

जिस सरकारी स्कूल से पढ़कर ओलंपिक विजेता बने रवि दहिया, दिल्ली सरकार ने उन्हीं के नाम किया वह स्कूल

दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने उनका सम्मान किया है। इस दौरान मनीष सिसोदिया ने बड़ी घोषणा करते हुए कहा कि सरकार ने तय किया है कि दिल्ली के इस सरकारी स्कूल का नाम अब रवि दाहिया बाल विद्यालय होगा। यहां मौजूद अपने स्कूल लौटे रवि दहिया के अध्यापकों के लिए यह भावुक क्षण था।

ओलंपिक विजेता रवि दहिया के नाम पर रखा जाएगा दिल्ली के सरकारी स्कूल का नाम, उपमुख्यमंत्री ने की ये घोषणा
X

ओलंपिक विजेता रवि दहिया के नाम पर रखा जाएगा दिल्ली के सरकारी स्कूल का नाम

दिल्ली सरकार (Delhi Government) के शिक्षा मॉडल (Education Model) के अनुरूप सभी सरकारी स्कूलों का स्वरूप पहले से बदल चुका है। वहीं शिक्षा की गुणवत्ता भी पहले से बेहतर हो चुकी है। जबकि स्पोट्स से लेकर साइंस डिपार्टमेंट को भी बेहतर आयाम तक पहुंचाने के लिए छात्रों को सुविधा दी जा रही है। इस बीच, ओलंपिक मे सिल्वर मेडल विजेता रवि दाहिया (Olympic silver medalist Ravi Dahiya) को दिल्ली के आदर्श नगर (Adarsh Nagar) राजकीय बाल विद्यालय में आमंत्रित किया गया। जिसके बाद उन्हें यहां मौजूद दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया (Delhi Deputy Chief Minister Manish Sisodia) ने उनका सम्मान किया है। इस दौरान मनीष सिसोदिया ने बड़ी घोषणा करते हुए कहा कि सरकार ने तय किया है कि दिल्ली के इस सरकारी स्कूल का नाम अब रवि दाहिया बाल विद्यालय होगा।

इसी स्कूल से रवि दहिया ने की थी पढ़ाई

दरअसल आदर्श नगर के जिस सरकारी स्कूल का नाम उपमुख्यमंत्री ने बदलकर रवि दहिया के नाम पर किया है। वह उसी स्कूल से पढ़कर निकले हैं। ओलंपिक जीतकर स्कूल लौटे रवि दहिया के अध्यापकों के लिए यह भावुक क्षण था। इस स्कूल में रवि दहिया के लिए आयोजित कार्यक्रम में दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने कहा कि हमारे लिए ये बेहद गर्व की बात है कि हमारे स्कूल से पढ़कर निकला एक बच्चा देश के लिए ओलंपिक मेडल जीतकर ला रहा है। अब उसी के नाम इस स्कूल का नाम होगा। उन्होंने कहा कि इस स्कूल में रवि दहिया की एक बड़ी तस्वीर भी लगाई जाएगी। ताकि उसे देखकर बच्चे प्रेरित हों, सपने संजोये और खेल में बेहतर प्रदर्शन कर सकें। ये बच्चों का हौसला बढ़ाने का काम भी करेगा।

दिल्ली सरकार ने किया सपोर्ट

ओलंपिक पदक विजेता रवि दहिया ने कहा कि दिल्ली सरकार ने मुझे ओलंपिक के लिए चुने जाने से पहले ही सपोर्ट करना शुरू कर दिया था। उन्होंने कहा कि मैं इस सपोर्ट के साथ अगले 2024 पेरिस ओलंपिक में देश के लिए गोल्ड मेडल जीत कर लाऊंगा। कोरोना के दौरान जब सब कुछ बंद था, लेकिन कुछ महीनों बाद ही ओलंपिक शुरू होने वाले थे। उस दौरान दिल्ली सरकार ने आगे बढ़ कर मेरी मदद की और मेरे लिए स्पेशल ट्रेनिंग जारी रखी। इससे मुझे काफी मदद मिली और मैं देश के लिए मेडल जीत कर ला सका।

आपको बता दें कि दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने टोक्यो ओलंपिक 2020 में पदक जीतने वाले खिलाड़ियों का शुक्रिया अदा करते हुए कहा था कि उन्हें अगली बार 70 मेडल जीतने की तैयारी करनी होगी। उन्होंने साथ ही घोषणा की कि दिल्ली के 2048 ओलंपिक की मेजबानी के लिए दावेदारी पेश करने के लिए तैयारियां शुरू हो चुकी हैं। केजरीवाल ने आगे कहा कि हमारी सरकार ने ओलंपिक सपने को साकार करने और प्रतिभाओं को तैयार करने के लिए दिल्ली खेल विश्वविद्यालय तैयार किया है।

Next Story