Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

दिल्ली सरकार का आदेश, प्राइवेट स्कूल खुलने से पहले कर्मचारी जल्द करवा ले ये काम, वरना हो सकती है दिक्कत

शिक्षा निदेशालय ने स्कूलों में कोरोना से बचाव के लिए प्रभावी उपायों के लिए दिशा-निर्देश भी जारी कर दिए हैं। जिसके तहत छात्रों के बीच आपस में टिफिन, किताबें समेत स्टेशनरी साझा मना होगा। वहीं स्कूलों को आपातकालीन स्थितियों से निपटने के लिए स्कूल परिसर में ही क्वारंटाइन तैयार करना होगा।

दिल्ली सरकार का आदेश, प्राइवेट स्कूलों के कर्मचारियों जल्द करवा ले ये काम, वरना हो सकती है दिक्कत
X

प्रतीकात्मक तस्वीर 

दिल्ली में दोबारा से स्कूल (Delhi School Reopen) खोलने की अनुमति दी गई है। कई महीनों से बंद स्कूलों को एक सितंबर से खोलने की दिल्ली सरकार (Delhi Government) ने इजाजत दे दी है। क्योंकि दिल्ली में कोरोना मामले कम होने के साथ ही स्थिति ठीक हो रही है। इसके मद्देनजर दिल्ली सरकार ने कई जरूरी गाइडलाइंस (Corona Guidelines) जारी की है। प्राइवेट स्कूलों (Private Schools) को आदेश जारी किया गया है। उन्होंने कहा कि एक सितंबर से कक्षा नौंवीं से 12वीं के लिए स्कूलों को फिर से खुलने से पहले अपने शिक्षकों और कर्मचारियों का टीकाकरण कराएं। दिल्ली सरकार के शिक्षा विभाग (Delhi Education Department) ने इस संबंध में एक परिपत्र जारी किया।

उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया (Manish Sisodia) ने कहा कि छोटी कक्षाओं के संबंध में अंतिम निर्णय लिया जाना बाकी है। साथ ही कहा कि वरिष्ठ कक्षाओं के लिए स्कूलों को फिर से खोलने के प्रभाव का विश्लेषण करने के बाद इस संबंध में फैसला किया जाएगा। हालांकि, छठी से आठवीं कक्षा के लिए स्कूलों को आठ सितंबर से फिर से खोला जा सकता है।

उधर, शिक्षा निदेशालय ने स्कूलों में कोरोना से बचाव के लिए प्रभावी उपायों के लिए दिशा-निर्देश भी जारी कर दिए हैं। जिसके तहत छात्रों के बीच आपस में टिफिन, किताबें समेत स्टेशनरी साझा मना होगा। वहीं स्कूलों को आपातकालीन स्थितियों से निपटने के लिए स्कूल परिसर में ही क्वारंटाइन तैयार करना होगा।

आपको बता दें कि दिल्ली सरकार ने बीते दिन घोषणा की कि कक्षा नौंवीं से 12वीं तक के स्कूल, कॉलेज और कोचिंग संस्थान एक सितंबर से खोले जाएंगे। जो कि दिल्ली आपदा प्रबंधन प्राधिकरण (डीडीएमए) की बैठक में यह फैसला लिया गया था। डीडीएमए द्वारा गठित एक समिति ने इस सप्ताह की शुरुआत में अपनी रिपोर्ट सौंपी थी जिसमें राष्ट्रीय राजधानी में स्कूलों को चरणबद्ध तरीके से फिर से खोलने की सिफारिश की गई थी।

Next Story