Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

दिल्ली सरकार ने नई SOP जारी की, अस्पताल से छुट्टी के बाद भी कोरोना मरीजों को दी जाएगी ये सुविधा

एसओपी में कहा गया है कि आवास का सबूत दिए जाने और उचित निरीक्षण के बाद संबंधित व्यक्ति को ऑक्सीजन कंसंस्ट्रेटर जारी किया जाएगा। आपको बता दें कि मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने घर पर पृथक-वास में रह रहे रोगियों के लिए एक ऑक्सीजन कंसंस्ट्रेटर बैंक शुरू करने की घोषणा की।

दिल्ली सरकार ने नई SOP जारी की, अस्पताल से छुट्टी के बाद भी कोरोना मरीजों को दी जाएगी ये सुविधा
X

दिल्ली सरकार ने नई SOP जारी की

Delhi Coronavirus दिल्ली सरकार (Delhi Government) ने अस्पतालों (Hospital) से छुट्टी पाकर घर जाने वाले कोरोना मरीजों (Corona Patients) को 'गृह-ऑक्सीजन कंसंस्ट्रेटर' (Home Oxygen Constructor) जारी करने के लिए मानक संचालन प्रक्रिया (SOP) जारी की। एसओपी में कहा गया है कि मध्यम से गंभीर लक्षण वाले ऐसे सभी रोगियों, जो ठीक हो चुके हैं या जिन्हें कोविड देखरेख प्रतिष्ठानों (सरकारी/निजी) से छुट्टी मिल गई है और जिन्हें डॉक्टर ने घर में ऑक्सीजन सहायता/अल्पकालिक ऑक्सीजन पद्धति का परामर्श दिया हो, को घर में ही ऑक्सीजन सहायता उपलब्ध कराई जाएगी। इसमें कहा गया है कि अस्पतालों को मरीजों को छुट्टी देते समय संबंधित आवश्यकता के बारे में पर्चे में स्पष्ट रूप से लिखना होगा।

पहचान पत्र देने के बाद ही ले जा सकेंगे ऑक्सीजन कंसंस्ट्रेटर

एसओपी में कहा गया है कि आवास का सबूत दिए जाने और उचित निरीक्षण के बाद संबंधित व्यक्ति को ऑक्सीजन कंसंस्ट्रेटर जारी किया जाएगा। आपको बता दें कि मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने घर पर पृथक-वास में रह रहे रोगियों के लिए एक ऑक्सीजन कंसंस्ट्रेटर बैंक शुरू करने की घोषणा की। दिल्ली के स्वास्थ्य विभाग द्वारा जारी की गई विस्तृत एसओपी में कहा गया कि अस्पतालों से छुट्टी पाकर घर गए ऐसे कोविड रोगियों के लिए सक्षम प्राधिकार ने गृह-ऑक्सीजन कंसंस्ट्रेटर प्रावधान के जरिए घरों में ही ऑक्सीजन सांद्रक के इस्तेमाल की मंजूरी प्रदान कर दी है, जिन्हें उपचार कर रहे चिकित्सिक ने इसका परामर्श दिया हो।

दिल्ली में कोरोना महामारी से जुड़े आंकडों को एकत्रित करने के लिए बनाया गया केंद्र

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने वास्तविक समय में महामारी प्रबंधन से जुड़े आंकडों को एकत्रित करने व फैसला लेने के लिए एकीकृत कमान एवं नियंत्रण केंद्र (आईसीसीसी) की शुरुआत की। इस मौके पर उन्होंने कहा कि दिल्ली सरकार तैयारियों को धीमा नहीं करेगी क्योंकि कोरोना वायरस की तीसरी लहर की आशंका बनी हुई है। केजरीवाल ने कहा कि पहली लहर में मामलों में कमी आने के बाद जिन कोविड-19 मरीज देखभाल केंद्रों को बंद कर दिया गया था उन्हें दोबारा खोलकर और मजबूत किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि नये केंद्र से वास्तविक समय में सरकारी और निजी अस्पतालों से टीकाकरण, ऑक्सीजन की उपलब्धता, बिस्तर, दवाएं और अन्य जरूरतों की मिलने वाली जानकारी से फैसला करने में मदद मिलेगी।

Next Story