Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

Delhi Fraud: चिट फंड के जरिए करोड़ों की ठगी करने वाला गिरफ्तार, आरोपी ने इन लोगों को बनाया शिकार

पुलिस ने इस बारे में शुक्रवार को जानकारी दी। पुलिस ने बताया कि आरोपी ने अब तक 17 से ज्यादा लोगों के साथ धोखाधड़ी की है। पूछताछ में आरोपी ने बताया कि उसने उन लोगों को निशाना बनाया जो उसे जानते थे और उन्हें सुनिश्चित मासिक उच्च लाभ देने का वादा कर अपनी चिटफंड योजना में निवेश करने के लिए प्रेरित किया।

Delhi Fraud: चिट फंड के जरिए करोड़ों की ठगी करने वाला गिरफ्तार, आरोपी ने इन लोगों को बनाया शिकार
X

चिट फंड के जरिए करोड़ों की ठगी करने वाला गिरफ्तार

दिल्ली में चिटफंड योजना (Chit Fund Scheme) चलाकर लोगों से ठगी करने के मामले में खुलाया किया है। बताया जा रहा है कि इस योजना में निवेश पर उच्च लाभ देने के नाम पर लोगों से पांच करोड़ रुपये (Cheated Five Crores) की ठगी की गई। पुलिस (Delhi Police) ने इस मामले में एक आरोपी को गिरफ्तार (One Arrested) किया है। इसकी पहचान प्रमोद कुमार सेठी (52) के रूप में हुई है। ये दिल्ली के पटेल नगर (Patel Nagar) का रहने वाला है। पुलिस ने इस बारे में शुक्रवार को जानकारी दी। पुलिस ने बताया कि आरोपी ने अब तक 17 से ज्यादा लोगों के साथ धोखाधड़ी की है। पूछताछ में आरोपी ने बताया कि उसने उन लोगों को निशाना बनाया जो उसे जानते थे और उन्हें सुनिश्चित मासिक उच्च लाभ देने का वादा कर अपनी चिटफंड योजना में निवेश करने के लिए प्रेरित किया।

आरोपी ने ग्राहकों से पैसे लेने के बाद योजना कर दी बंद

पुलिस के मुताबिक ठगी का शिकार हुए लोगों से बहुत सारी धन राशि एकत्र करने के बाद, सेठी ने योजना बंद कर दी और अनुरोध के बावजूद निवेश की गई राशि को वापस करने से इनकार कर दिया। पुलिस के मुताबिक आरोपी सेठी के खिलाफ 2016 में उस समय प्राथमिकी दर्ज की गयी जब पीड़ित लोगों ने शिकायत में उस पर चिटफंड कंपनी के जरिए ठगी करने का आरोप लगाया। दिल्ली पुलिस की आर्थिक अपराध शाखा के अतिरिक्त पुलिस आयुक्त आर के सिंह ने कहा कि उच्च लाभ के आश्वासन के बाद पीड़ित लोगों ने सेठी की चिटफंड योजना में मासिक किश्तों के रूप में अपना पैसा निवेश किया।

पुलिस मामले की जांच में जुटी

2015 में सेठी ने अपनी चिटफंड योजना बंद कर दी और न तो उसने सदस्यता के तहत सामूहिक कोष में अपने हिस्से का भुगतान किया और न ही लोगों के निवेश किए गए रुपये वापस किए। आरोपी सेठी ने लोगों के साथ पांच करोड़ रुपये की ठगी की है। सहायक पुलिस आयुक्त वीरेंद्र ठकरान के नेतृत्व वाली एक टीम ने पांच अक्टूबर को आरोपी को गिरफ्तार कर लिया था। इस मामले की विस्तृत जांच जारी है।

Next Story