Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

Delhi Fire: उद्योग नगर में जूते की फैक्ट्री में लगी थी आग, दमकलकर्मियों ने जला हुआ शव किया बरामद

Delhi Fire: दिल्ली के दमकल विभाग के अधिकारियों ने बताया कि घटना में किसी के हताहत होने की कोई खबर नहीं है। विभाग को सुबह आठ बजकर 22 मिनट पर आग लगने की जानकारी मिली थी, अधिकारियों ने बताया कि आग पर काबू पाने की कोशिश जारी है और आग लगने का कारण अभी पता नहीं चल पाया है।

Delhi Fire: उद्योग नगर में जूते की फैक्ट्री में लगी थी आग,   दमकलकर्मियों ने जला हुआ शव किया बरामद
X

Delhi Fire पश्चिम दिल्ली के उद्योग नगर स्थित दो मंजिला जूतों के गोदाम में एक दिन पहले लगी आग के बाद मंगलवार को सुबह दमकलकर्मियों ने जला हुआ एक शव बरामद किया है। दिल्ली दमकल सेवा के अधिकारियों ने इस बारे में बताया। उद्योग नगर स्थित दो मंजिला गोदाम के अंदर अब भी तीन कर्मियों के फंसे होने की आशंका है और तलाश अभियान जारी है। गोदाम में सोमवार को आग लग गयी थी जिस पर काबू पाने के लिए दमकल की 35 गाड़ियों और 140 दमकलकर्मियों को भेजा गया था।

इस गोदाम में जूते तैयार कर उन्हें बिक्री के लिए पैक किया जाता है।दिल्ली में रोज आग लगने का सिलसिला जारी है। हालांकि लोगों की जान का नुकसान नहीं हो रहा। लेकिन करोड़ों का माल जल खाक हो जा रहा है। इस बीच, पश्चिम दिल्ली के उद्योग नगर (Udyog Nagar) में सोमवार सुबह भीषण आग लगने की खबर सामने आई है। यहां जूते की एक फैक्ट्री (Shoe Factory) में भंयकर आग लग गई। जिसके बाद हर तरफ अफरा-तफरी मच गई। आनन-फानन में दमकल विभाग (Fire Department) को सूचित किया गया। जिसके बाद दमकल की 24 गाड़ियां घटनास्थल पर भेजी गईं।

दिल्ली के दमकल विभाग के अधिकारियों ने बताया कि घटना में किसी के हताहत होने की कोई खबर नहीं है। दिल्ली फायर सर्विस निदेशक अतुल गर्ग ने कहा कि हमें करीब 8:26 बजे सूचना मिली। वहां 31 गाड़ियां पहुंची हैं। आग अभी थोड़ी बढ़ी है इसलिए आग पर अभी काबू नहीं पाया गया है। इस घटना में 5-6 लोग लापता हैं अभी सर्च जारी है और मैं वहां अभी सुपरवाइज करने जा रहा हूं।

विभाग को सुबह आठ बजकर 22 मिनट पर आग लगने की जानकारी मिली थी, अधिकारियों ने बताया कि आग पर काबू पाने की कोशिश जारी है और आग लगने का कारण अभी पता नहीं चल पाया है। इससे पहले, दिल्ली के मंगोलपुरी इलाके में स्थित एक घर में शनिवार को गैस सिलेंडर में विस्फोट हो गया था। इस हादसे में 13 लोग झुलस गए थे। पुलिस को शाम छह बजकर 44 मिनट पर सिलेंडर में धमाके की सूचना मिली। धमाके के चलते लगी आग पर काबू पा लिया गया है।

अग्निशमन विभाग के अधिकारियों ने कहा कि आग बुझाने के लिए दमकल की तीन गाड़ियों को मौके पर भेजा गया था। पुलिस उपायुक्त (बाहरी) परविंदर सिंह ने कहा कि गणेश नाम के व्यक्ति के घर में विस्फोट उस समय हुआ जब उसकी पत्नी सावित्री सिलेंडर बदल रही थी और गैस लीक होने के चलते यह फट गया। पुलिस ने कहा कि इस घटना में सावित्री, सचिन, गीता, प्रिंस, लक्ष्मी, विनोद, विवेक, छतरपाल, संजू, संध्या, निर्मला, महिमा और मोनिष्का घायल हो गए जिन्हें संजय गांधी अस्पताल में भर्ती कराया गया। उन्होंने कहा कि अधिक झुलस जाने के कारण बाद में सावित्री, सचिन, गीता और प्रिंस को सफदरजंग अस्पताल रेफर किया गया।

Next Story