Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

दिल्ली के डॉक्टर ने इस पाकिस्तानी लड़की को दी नई जिंदगी, 90 डिग्री में घूमा हुआ था चेहरा, इस तरह किया इलाज

पिछले कुछ सालों से भारत और पाकिस्तान के रिश्तों (india and pakistan relations) के बीच टकरार चल रही हैं। जिसके चलते दोनों देशों के बीच व्यापारिक संबंध भी खत्म हो गए हैं। इसी बीच एक ऐसी खबर सामने आई है। जिसके बारे में जानकर हर भारतीय का सिर गर्व से ऊंचा हो जाएगा।

दिल्ली के डॉक्टर ने इस पाकिस्तानी लड़की को दी नई जिंदगी, 90 डिग्री में घूमा हुआ था चेहरा, इस तरह किया इलाज
X

पिछले कुछ सालों से भारत और पाकिस्तान के रिश्तों (india and pakistan relations) के बीच टकरार चल रही हैं। जिसके चलते दोनों देशों के बीच व्यापारिक संबंध भी खत्म हो गए हैं। इसी बीच एक ऐसी खबर सामने आई है। जिसके बारे में जानकर हर भारतीय का सिर गर्व से ऊंचा हो जाएगा। सिंध पाकिस्तान की रहने वाली 13 वर्षीय अफशीन गुल को भारत के एक डॉक्टर ने नई जिंदगी दी है।

पाकिस्तान में हो रही है भारत की तारीफ

एक भारतीय डॉक्टर (indian doctor) ने गंभीर शारीरिक समस्या से जूझ रही अफशीन गुल का जिस तरह से इलाज किया, उसकी न सिर्फ भारत (india) में बल्कि पाकिस्तान (pakistan) में भी तारीफ हो रही है। एक हादसे में अफशीन गुल की गर्दन 90 डिग्री झुक गई थी। जिसके बाद वह कभी स्कूल नहीं जा सकी और न ही अपने दोस्तों के साथ खेल सकी। ऐसे में उम्मीद की किरण बनकर सामने आए भारत के डॉक्टर राजगोपालन कृष्णन (Rajagopalan Krishnan) ने एक मासूम की जिंदगी के अंधकार को दूर कर दिया है।

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार सिंध प्रदेश की रहने वाली अफशीन गुल की गर्दन 10 महीने पहले 90 डिग्री झुक गई थी। वह अपनी बहन की गोद से फिसल गई थी। मासूम के माता-पिता उसे डॉक्टर के पास ले गए, लेकिन हालत में सुधार नहीं हुआ। मासूम का दर्द बद से बदतर होता चला गया। आर्थिक रूप से कमजोर माता-पिता मासूम के इलाज पर पैसा खर्च नहीं कर पा रहे थे। इस दौरान मासूम गुल सेरेब्रल पाल्सी से ग्रसित हो गई।

ऐसे बदली किस्मत

पिछले साल मार्च में अफशीन गुल ऐसी किस्मत बदली औऱ एक भारतीय डॉक्टर ने उसकी जिंदगी बदल दी। गुल के भाई याकूब कुंबर ने बताया कि पिछले साल मार्च में वह अपनी बहन के इलाज के लिए भारत आए थे। इस दौरान एक ब्रिटिश पत्रकार अलेक्जेंड्रिया थॉमस ने उनकी बहन अफशिन को के बारे में एक स्टोरी की। इसके बाद एक दिल्ली के अपोलो अस्पताल ( apollo hospital) में तैनात जटिल स्पाइनल सर्जरी के विशेषज्ञ डॉ. राजगोपालन कृष्णन (Rajagopalan Krishnan) ने उनसे संपर्क किया।

उन्होंने बहन का मुफ्त इलाज करने की पेशकश की। परिजन उसे तुरंत दिल्ली लेकर आए। यहां डॉक्टर ने उसकी घुमावदार गर्दन का सफलतापूर्वक ऑपरेशन किया। हम बहुत खुश हैं। डॉक्टर ने मेरी बहन की जान बचाई है। हमारे लिए, वो भगवान से कम नहीं है। वहीं, डॉक्टर का कहना है कि यह शायद दुनिया में अपनी तरह का पहला मामला है। पीड़ित गुल के इलाज के खर्चों में एक ऑनलाइन फंडराइजर ने मदद की है।

चार बार हुए बड़े ऑपरेशन

गुल की गर्दन को ठीक करने के लिए चार बड़े ऑपरेशन किए गए। मुख्य सर्जरी (surgery ) फरवरी में की गई थी, जो छह घंटे में पूरी हुई थी। वहीं गुल के भाई का कहना है कि डॉ. कृष्णन (Rajagopalan Krishnan) ने हमें बताया कि ऑपरेशन के दौरान बहन के दिल या फेफड़े काम करना बंद कर सकते हैं। तब हम बहुत घबरा गए थे, लेकिन उनके प्रयासों और सुपर विजन के कारण ऑपरेशन सफल रहा।

और पढ़ें
Next Story