Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

Delhi Dengue Case: दिल्ली में बढ़े बुखार और जुखाम के मरीज, डेंगू के अब तक 55 मामले मिले

Delhi Dengue Case: रिपोर्ट में कहा गया है कि जनवरी में कोई मामला नहीं आया जबकि फरवरी में दो, मार्च में पांच, अप्रैल में 10, मई में 12, जून में सात और जुलाई में 16 मामले दर्ज किए गए। रिपोर्ट के अनुसार पिछले वर्षों में, इसी अवधि में 2016 में 171, 2017 में 251, 2018 में 64, 2019 में 47 और 2020 में 35 मामले दर्ज किए गए थे। हालांकि अब तक शहर में डेंगू से किसी की मौत की खबर नहीं है।

बढ़ने लगे डेंगू के केस, पीजीआई में स्पेशल वार्ड बनाने की तैयारी
X

बढ़ने लगे डेंगू के केस, पीजीआई में स्पेशल वार्ड बनाने की तैयारी

Delhi Dengue Case राजधानी दिल्ली में बरसाती मौसम (Delhi Rain) में अनेक प्रकार की मच्छरों (Mosquito) से होने वाली बीमारी पनपने लगती है। जिससे काफी लोग इस मौसम में बुखार और जुखाम (Fever And Cold) से ग्रसित रहते है। वहीं दूसरी तरफ इन बीमारियों के बढ़ने का कारण मौसम में होना वाला बदलाव को भी माना जा रहा है। इस बीच, दिल्ली में मच्छरों से डेंगू (Dengue) का प्रकोप बढ़ता जा रहा है। अब तक डेंगू के 55 मामले सामने आए हैं। लेकिन अच्छी बात ये है कि अभी तक डेंगू से किसी की मौत नहीं हुर्ह है। नगर निगम (MCD) द्वारा इस बात की जानकारी दी गई।

डेंगू के मामलों की संख्या में सबसे अधिक बढ़ोतरी

2018 के बाद जनवरी 2021 से अगस्त के महीने के दौरान डेंगू के मामलों की संख्या सबसे ज्यादा है। डेंगू के 64 मामले आए थे। वहीं इस महीने में तीन मामले सामने आए। डेंगू के मच्छर साफ, ठहरे पानी में पनपते हैं, जबकि मलेरिया के मच्छर गंदे पानी में भी पनपते हैं। मच्छर जनित बीमारियों के मामले आमतौर पर जुलाई और नवंबर के बीच दर्ज किए जाते हैं, लेकिन यह अवधि दिसंबर के मध्य तक बढ़ सकती है।

शहर में डेंगू से किसी की मौत की खबर नहीं

रिपोर्ट में कहा गया है कि जनवरी में कोई मामला नहीं आया जबकि फरवरी में दो, मार्च में पांच, अप्रैल में 10, मई में 12, जून में सात और जुलाई में 16 मामले दर्ज किए गए। रिपोर्ट के अनुसार पिछले वर्षों में, इसी अवधि में 2016 में 171, 2017 में 251, 2018 में 64, 2019 में 47 और 2020 में 35 मामले दर्ज किए गए थे। हालांकि अब तक शहर में डेंगू से किसी की मौत की खबर नहीं है। इस साल सात अगस्त तक मलेरिया के 24 मामले और चिकनगुनिया के करीब 15 मामले भी सामने आ चुके हैं।

एमसीडी चला रही है जागरुकता अभियान

डॉक्टरों का कहना है कि लोगों को संदेह हो सकता है कि उन्हें कोविड-19 हो गया है। पूर्वी दिल्ली नगर निगम की स्थायी समिति ने 29 जुलाई को डेंगू ब्रीडिंग चेकिंग (डीबीसी) स्टाफ के 710 पद सृजित करने के प्रस्ताव को मंजूरी दी थी। ईडीएमसी ने 24 जुलाई को डेंगू की रोकथाम के बारे में जागरूकता बढ़ाने के लिए एक महीने का अभियान शुरू किया था। अन्य नगर निगमों ने भी मच्छर जनित बीमारी को फैलने से रोकने के लिए अपने-अपने स्तर पर कदम उठाए हैं। एमसीडी मच्छरों से फैलने वाली बीमारी को रोकने के लिए लगातार जागरुकता अभियान चला रही है।

Next Story