Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

Delhi Crime: बदमाशों ने व्यापारी पर चाकुओं से किये 30 वार, दर्दनाक मौत

मृतक का नाम ओमकार शर्मा (43) है। पुलिस ने ओमकार शर्मा के शव को पोस्टमार्टम के बाद परिजनों को सौंप दिया है। शुरुआती जांच के बाद पुलिस का कहना है कि रुपयों के लेनदेन के चलते आरोपियों ने ओमकार की हत्या की गई है।

Delhi Crime: बदमाशों ने व्यापारी पर चाकुओं से किये 30 वार, दर्दनाक मौत
X

बदमाशों ने व्यापारी पर चाकुओं से किये 30 वार

दिल्ली के गाजीपुर इलाके में बदमाशों ने एक व्यापारी की हत्या की खबर सामने आई है। बदमाशों ने व्यापारी की चाकुओं से गोदकर निर्मम हत्या कर दी। आरोपियों ने कारोबारी का गला रेतने के अलावा उसके शरीर पर 30 से अधिक बार वार किये। मृतक का नाम ओमकार शर्मा (43) है। पुलिस ने ओमकार शर्मा के शव को पोस्टमार्टम के बाद परिजनों को सौंप दिया है।

बताया जा रहा है कि आरोपियों ने ओमकार शर्मा की हत्या कहीं और की है। वारदात को अंजाम देने के बाद उन्होंने ओमकार का शव एक चादर में लपेटकर गाजीपुर डेयरी फार्म की एक गली में डाल दिया। शुरुआती जांच के बाद पुलिस का कहना है कि रुपयों के लेनदेन के चलते आरोपियों ने ओमकार की हत्या की गई है। पुलिस मृतक के मोबाइल के सीडीआर डिटेल निकालने के अलावा घटनास्थल के आसपास लगे सीसीटीवी कैमरों की फुटेज खंगालने के साथ-साथ परिजनों व मिलने वालों से पूछताछ कर मामले की जांच कर रही है।

पुलिस के मुताबिक, ओमकार शर्मा, गांव मुआना, जींद, हरियाणा में सपरिवार रहता था। परिवार में पिता शिवपाल शर्मा, मां राजपति, पत्नी, दो बेटी, एक बेटे के अलावा भाई धर्मपाल शर्मा है। धर्मपाल ने बताया कि ओमकार का भैंसों का कारोबार है। वह पिछले 15 सालों से गाजीपुर डेरी फार्म में हरियाणा से भैंस लाकर बेचता था। अक्सर वह पशु लेकर यहां आता और एक-एक सप्ताह गाजीपुर में रुककर अपनी भैंसे बेचकर ही वापस जाता था। करीब एक सप्ताह पूर्व वह भैंसे लेकर गाजीपुर आया था। इस दौरान उसने धर्मपाल को बताया कि माल बेचने के अलावा उसे कुछ लोगों से 20-25 लाख रुपये भी लेने है।

दिल्ली के मंत्री ने नशा सेवन के विरुद्ध शुरू किया अभियान

दिल्ली के महिला एवं बाल विकास मंत्री राजेंद्र पाल गौतम ने मादक पदार्थों की तस्करी एवं व्यसन के विरूद्ध रविवार को एक अभियान शुरू किया। आप नेता ने जमीनी स्तर पर फर्क लाने में सार्थक योगदान के लिए सभी संबंधित पक्षों के बीच नियमित तालमेल पर जोर दिया। एम्स के प्रोफेसर अतुल अंबेडकर ने व्यसन से प्रभावित बेघर लोगों के उपचार एवं पुनर्वास सेवाएं बढ़ाने के लिए परियोजना पेश की। उन्होंने कहा कि इसके तहत प्रभावित लोगों को उनके रहने के स्थान पर ही नशामुक्ति एवं परामर्श सेवाएं प्रदान की जाएंगी।

Next Story