Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

Delhi Crime: सुल्तानपुरी में व्यक्ति की चाकुओं से गोदकर की थी हत्या, पुलिस ने तीन नाबालिग को गिरफ्तार कर किया खुलासा

Delhi Crime: पुलिस ने अपराध में इस्तेमाल किया गया चाकू, मृतक के आधार कार्ड के साथ एक बटुआ, किशोरों के खून से सने कपड़े और 700 रुपये नकद बरामद किए हैं। मृतक की पहचान नांगलोई निवासी रवींद्र के रूप में हुई है। जो मंगोलपुरी औद्योगिक क्षेत्र में एक जूता निर्माण इकाई में ठेकेदार के रूप में काम करता था।

Crime: चाकुओं से हमला
X

चाकुओं से हमला (प्रतीकात्मक तस्वीर)

Delhi Crime दिल्ली के सुल्तानपुरी (Sultanpuri Incident) क्षेत्र में लूटपाट के दौरान 45 वर्षीय एक व्यक्ति की कथित तौर पर चाकू मारकर हत्या (Murder With Knife) कर दी थी। पुलिस (Delhi Police) ने इस मामले में तीन किशोरों को गिरफ्तार (Three Minor Arrested) किया गया है। पुलिस ने अपराध में इस्तेमाल किया गया चाकू, मृतक के आधार कार्ड के साथ एक बटुआ, किशोरों के खून से सने कपड़े और 700 रुपये नकद बरामद किए हैं। मृतक की पहचान नांगलोई निवासी रवींद्र के रूप में हुई है। जो मंगोलपुरी औद्योगिक क्षेत्र में एक जूता निर्माण इकाई में ठेकेदार के रूप में काम करता था। उन्होंने बताया कि तीनों आरोपियों की आयु 17 साल है। वे एक दुकान में काम करते थे और इसी दौरान उन्हें शराब पीने की लत लग गई। अपनी शराब की लत को पूरा करने के लिए उन्हें धन की आवश्यकता थी और उन्होंने चोरी-लूटपाट करना शुरू कर दिया।

पुलिस के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि यह घटना सुल्तानपुरी के जलेबी चौक के पास एक पार्क के निकट शुक्रवार रात करीब साढ़े नौ बजे उस समय हुई, जब आरोपियों ने रवींद्र को वहां किसी से मोबाइल फोन पर बात करते देखा। एक किशोर ने रवींद्र की गर्दन पकड़ ली, ताकि वह हिल न सके और दूसरे व्यक्ति ने उसका मोबाइल फोन छीनने की कोशिश की, लेकिन रवींद्र ने इसका विरोध किया। इस बीच, तीसरे किशोर ने चाकू निकालकर रवींद्र पर कई बार हमला किया। इसके बाद उन्होंने उसके बटुए से पैसे निकाले और भाग गए।

पुलिस उपायुक्त (बाह्य) परविंदर सिंह ने कहा कि हमें शनिवार को संजय गांधी अस्पताल से सूचना मिली कि जलेबी चौक से घायल हालत में मिले रवींद्र नाम के एक व्यक्ति ने अस्पताल में इलाज के दौरान दम तोड़ दिया है। उन्होंने बताया कि राज पार्क थाने में भारतीय दंड संहिता की धारा 302 के तहत हत्या का मामला दर्ज किया गया है। अधिकारी ने कहा कि हमारी टीमों ने घटनास्थल का दौरा किया और आरोपियों की पहचान करने के लिए घटनास्थल के पास से डिजिटल साक्ष्य एकत्र किए, जिनके आधार पर तीनों किशोरों को शनिवार को पकड़ लिया गया। उन्होंने पूछताछ के दौरान अपना अपराध कबूल कर लिया।

Next Story