Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

Delhi Coronavirus Updates: दिल्ली में कोरोना के 19,953 नए मामले मिले, 338 मरीजों की मौत

Delhi Coronavirus Updates: इस नये मामले के साथ ही दिल्ली में अब कुल मामले 12,32,942 हो चुके है। वहीं इस बीमारी से अब तक 11,24,771 लोगों ने कोरोना को मात दे चुके हैं। कोरोना से दिल्ली में कुल 17,752 लोगों की मौतें हो चुकी हैं। दिल्ली में इस समय 90,419 सक्रिय मामले है।

Delhi Coronavirus Updates: दिल्ली में कोरोना के 19,953 नए मामले मिले, 338 मरीजों की मौत
X

दिल्ली में कोरोना के 19,953 नए मामले मिले

Delhi Coronavirus Updates दिल्ली में कोरोना से लगातार हालात खराब हो रहे है। हालांकि पिछले दो दिन से मामले कम हो रहे है। लेकिन महामारी (Corona Pandemic) से मौतों का सिलसिला नहीं रुक रहा है। दिल्ली अस्पतालों (Delhi Hospitals) में अभी भी ऑक्सीजन (Oxygen) और दवाईयों (Medicine) की कमी बरकरार है। इसी बीच, दिल्ली में पिछले 24 घंटे में कोरोना के 19,953 नए मामले (New Cases Of Corona) सामने आए है और इस बीमारी से 18,788 लोग ठीक होकर अपने घर चले गए। वहीं कोरोना की चपेट में आने से 338 मरीजों की मौत (Corona Deaths) हो गई। इस नये मामले के साथ ही दिल्ली में अब कुल मामले 12,32,942 हो चुके है। वहीं इस बीमारी से अब तक 11,24,771 लोगों ने कोरोना को मात दे चुके हैं। कोरोना से दिल्ली में कुल 17,752 लोगों की मौतें हो चुकी हैं। दिल्ली में इस समय 90,419 सक्रिय मामले है।

उपराज्यपाल ने अधिकारियों को दिए ये निर्देश

दिल्ली में कोरोना वायरस के मामलों में तेज बढ़ोतरी के मद्देनजर उपराज्यपाल अनिल बैजल ने मंगलवार को जिलाधिकारियों और पुलिस उपायुक्तों (डीसीपी) को अपने-अपने इलाके में सघन सर्वेक्षण कराने और अत्यधिक संक्रमण के प्रसार वाले' संभावित स्थानों को चिह्नित करने का निर्देश दिया है। संभागीय आयुक्त संजीव खिरवार और पुलिस आयुक्त एस एन श्रीवास्तव को बैजल ने अपने पत्र में राष्ट्रीय राजधानी में मौजूदा लॉकडाउन का कड़ाई से पालन सुनिश्चित करने के लिए तमाम कदम उठाने को कहा है।

पश्चिमी दिल्ली के नर्सिंग होम में आग लगी

पश्चिमी दिल्ली के विकासपुरी में स्थित एक नर्सिंग होम में आग लग गई जहां कोविड-19 मरीज भर्ती हैं। अधिकारियों ने यह जानकारी दी। अग्निशमन अधिकारियों के मुताबिक, विकासपुरी में यूके नर्सिंग होम में आग लगने की सूचना रात करीब 11 बजे प्राप्त हुई। उन्होंने बताया कि आठ दमकल वाहनों को मौके पर भेजा गया है। अधिक विवरण का इंतजार किया जा रहा है।

अब भी ऑक्सीजन संकट से जूझ रहे हैं कुछ अस्पताल

राष्ट्रीय राजधानी के कुछ अस्पतालों ने भी अधिकारियों से ऑक्सीजन आपूर्ति को लेकर गुहार लगाई और कहा कि ऑक्सीजन की किल्लत के चलते उनके मरीजों की जान दांव पर लगी हुई है। पिछले कुछ दिनों से राष्ट्रीय राजधानी एवं इसके आसपास के अस्पताल चिकित्सीय ऑक्सीजन की किल्लत के चलते सोशल मीडिया पर एसओएस (त्राहिमाम संदेश) भेज रहे हैं। इस बीच, मालवीय नगर के मधुकर रेनबो बाल अस्पताल ने मंगलवार रात करीब 10:30 बजे खत्म होती चिकित्सीय ऑक्सीजन के बारे में सतर्क किया और कहा कि उनके 50 मरीजों की जान खतरे में है। अस्पताल के प्रमुख दिनेश वशिष्ठ ने कहा कि इस निजी अस्पताल के पास केवल 45 मिनट की ऑक्सीजन बाकी बची थी।

Next Story