Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

कोरोना पर दिल्ली सरकार सतर्क, बुलाई आपात बैठक, लॉकडाउन या नाइट कर्फ्यू लगाने पर हो सकता है विचार!

सत्येंद्र जैन ने कहा कि दिल्ली में कल पॉजिटिविटी रेट (Positive Rate) 0.66% था, दिल्ली में पिछले 2 महीने से पॉजिटिविटी एक प्रतिशत से कम है। दिल्ली में स्थिति दूसरों शहरों की तुलना में नियंत्रण में है, महाराष्ट्र में पॉजिटिविटी रेट 19.32% है। आज मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल (Arvind kejriwal) ने समीक्षा बैठक रखी है।

Covid19 Guidelines: कोरोना को लेकर दिल्ली सरकार का बड़ा फैसला, अब शादियों और सार्वजनिक कार्यक्रमों में इतने लोग ही कर सकेंगे एंट्री
X

कोरोना को लेकर दिल्ली सरकार का बड़ा फैसला

Delhi Corona Update दिल्ली में कोरोना का कहर बढ़ता जा रहा है। जिसको लेकर दिल्ली सरकार (Delhi Government) सतर्क हो गई है। दिल्ली में बढ़ते मामलों को लेकर स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन (Satyendra Jain) ने जानकारी दी है कि दिल्ली में कल पॉजिटिविटी रेट (Positive Rate) 0.66% था, दिल्ली में पिछले 2 महीने से पॉजिटिविटी एक प्रतिशत से कम है। दिल्ली में स्थिति दूसरों शहरों की तुलना में नियंत्रण में है, महाराष्ट्र में पॉजिटिविटी रेट 19.32% है। आज मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल (Arvind kejriwal) ने समीक्षा बैठक रखी है। आपको बता दें कि दिल्ली में पिछले 24 घंटों में कोरोन के 536 नए मामले सामने आए हैं। वहीं कोरोना संक्रमण से 319 लोग ठीक होकर अपने घर चले गये। जबकि एक दिन 3 लोगों की मृत्यु दर्ज़ की गई।

सीएम केजरीवाल ने बुलाई आपात बैठक

दिल्ली में कोरोना के तेजी से बढ़ते मामलों को देखते हुए सीएम अरविंद केजरीवाल ने आज कोरोना पर आपात बैठक बुलाई है। इस बैठक में मुख्यमंत्री हेल्थ इंफॉर्मेशन मैनेजमेंट सिस्टम की समीक्षा करेंगे। दिल्ली सचिवालय में होने वाली इस बैठक में स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन समेत अन्य संबंधित अधिकारी मौजूद रहेंगे। दिल्ली सरकार के वरिष्ठ अधिकारी के मुताबिक अभी दिल्ली में संक्रमण की दर एक फीसदी से कम है, लेकिन कुछ दिनों से सक्रिय मरीजों की संख्या लगातार बढ़ रही है। होम आइसोलेशन में रह रहे मरीजों के लापरवाही बरतने की कुछ शिकायतें भी मिली हैं।

होम आइसोलेशन वाले मरीजों पर बढ़ी निगरानी

कोरोना मामले को लेकर दिल्ली सरकार सतर्क हो गई है। दिल्ली में जिस तरह सक्रिय मरीजों की संख्या बढ़ रही है, सरकार ने होम आइसोलेशन वाले मरीजों पर निगरानी बढ़ाने के निर्देश दिए हैं। सरकार को डर है कि होम आइसोलेशन वाले मरीज संक्रमण बढ़ने की वजह न बन जाएं। स्वास्थ्य विभाग ने सभी जिला प्रशासन को अपने इलाके में सर्विलांस टीम को फिर से सक्रिय करके होम आइसोलेशन वाले कोरोना मरीजों की निगरानी बढ़ाने को कहा है।

Next Story