Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

Delhi Coronavirus: रमजान के महीने पर कोरोना का कहर, हजरत निजामुद्दीन दरगाह 30 अप्रैल तक बंद

Delhi Coronavirus: निजामी ने कहा कि दिल्ली में कोरोना वायरस के मामलों में रोजाना वृद्धि के मद्देनजर हमने यह फैसला लिया है। हम मास्क पहनने और भौतिक दूरी बनाए रखने समेत सभी कोविड-19 नियमों का पालन कर रहे हैं, फिर भी हमने 30 अप्रैल तक दरगाह को बंद रखने का निर्णय लिया है। उन्होंने कहा कि अगर हालात में सुधार नहीं हुआ तो हम दरगाह को बंद रखने की अवधि बढ़ा सकते हैं। रमजान का महीना चल रहा है।

Delhi Coronavirus: कोरोना का कहर! हजरत निजामुद्दीन दरगाह 30 अप्रैल तक बंद
X

 हजरत निजामुद्दीन दरगाह 30 अप्रैल तक बंद 

Delhi Coronavirus Update कोरोना के कहर से एक बार फिर से दिल्ली कोविड 19 की चपेट में आ गई है। जिसके कारण कई जरूरी कदम उठाए जा रहे है। दिल्ली में नाइट कर्फ्यू (Night Curfew) के बाद वीकेंड कर्फ्यू (Weekend Curfew) लगाया गया है। जबकि कई संस्थाओं को अगले आदेश तक बंद कर दिया गया है। वहीं अब खबर सामने आई है कि दिल्ली के हजरत निजामुद्दीन औलिया दरगाह (Hazrat Nizamuddin Dargah) को भी बंद कर दिया है।

आपको बता दें कि रमजान का महीना चल रहा है। इस दौरान दूर-दूर से मुसलमान जियारत करने आते है। इसलिए दिल्ली में कोविड-19 के मामलों में अभूतपूर्व वृद्धि के मद्देनजर प्रसिद्ध हजरत निजामुद्दीन औलिया दरगाह 30 अप्रैल तक बंद रहेगी। दरगाह के अध्यक्ष अफसर अली निजामी ने यह जानकारी दी।

निजामी ने कहा कि दिल्ली में कोरोना वायरस के मामलों में रोजाना वृद्धि के मद्देनजर हमने यह फैसला लिया है। हम मास्क पहनने और भौतिक दूरी बनाए रखने समेत सभी कोविड-19 नियमों का पालन कर रहे हैं, फिर भी हमने 30 अप्रैल तक दरगाह को बंद रखने का निर्णय लिया है। उन्होंने कहा कि अगर हालात में सुधार नहीं हुआ तो हम दरगाह को बंद रखने की अवधि बढ़ा सकते हैं। रमजान का महीना चल रहा है।

हर साल इस दौरान देशभर से मुसलमान जियारत के लिए दरगाह पहुंचते हैं। दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने शनिवार को ऑनलाइन ब्रीफिंग के दौरान कहा कि 24 घंटे के दौरान कोरोना वायरस संक्रमण के 24 हजार मामले सामने आए हैं। ज्ञात हो तो दिल्ली में पिछले 24 घंटों में कोविड-19 के 24,375 नए मामले सामने आए, जो राष्ट्रीय राजधानी में संक्रमण के मामलों की अब तक की सर्वाधिक दैनिक संख्या है।

इसके साथ ही 167 लोगों की बीमारी के कारण मौत हो गई। दिल्ली में संक्रमण दर भी 24.56 प्रतिशत हो गई जिसका मतलब है कि हर चार नमूनों में से एक व्यक्ति संक्रमित निकला है। नवीनतम बुलेटिन के अनुसार, इन नए मामलों के साथ, राष्ट्रीय राजधानी में संक्रमण के कुल मामले बढ़कर 8,27,998 हो गए हैं। मरने वालों की संख्या 11,960 हो गई है। इसमें कहा गया कि अब तक दिल्ली में 7.46 लाख से अधिक मरीज ठीक हो चुके हैं। बुलेटिन में कहा गया कि शहर में उपचाराधीन मरीजों की संख्या 61,005 से बढ़कर 69,799 हो गई है।

Next Story