Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

Delhi Coronavirus: मनीष सिसोदिया ने केंद्र पर साधा निशाना, बोले- हमसे नहीं पूछा गया कि ऑक्सीजन की कमी से मौतें हुई या नहीं

Delhi Coronavirus: मनीष सिसोदिया ने इसे भाजपा का प्रोपेगैंडा करार दिया है। उन्होंने कहा कि मोदी सरकार झूठ बोल रही है कि वे ऑक्सीजन की कमी के कारण होने वाली मौतों का डेटा एकत्र कर रहे हैं। सिसोदिया ने कहा कि आप राज्यों से पूछोगे नहीं, राज्यों को जांच नहीं करने दोगे और आप कह दोगे कि राज्य बता नहीं रहे? दिल्ली सरकार को अब तक केंद्र से ऐसा कोई पत्र नहीं मिला है।

Delhi Coronavirus: मनीष सिसोदिया ने केंद्र पर साधा निशाना, बोले- हमसे नहीं पूछा गया कि ऑक्सीजन की कमी से मौतें हुई या नहीं
X

 मनीष सिसोदिया ने केंद्र पर साधा निशाना

Delhi Coronavirus दिल्ली समेत देशभर में कोरोना की दूसरी लहर (Second Wave Of Corona) के दौरान ऑक्सीजन की कमी (Oxygen Shortage) के कारण हजारों मौतों हुई है। अब इस मामले को लेकर दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया (Manish Sisodia) आज केंद्र सरकार (Central Government) पर निशाना साधते हुए कहा कि हमसे केंद्र कभी नहीं पूछा कि कोरोना दूसरी लहर के दौरान ऑक्सीजन की कमी के कारण दिल्ली में मौतें हुई या नहीं। आपको बता दें कि संसद के मानसून सत्र के दौरान सदन में देश स्वास्थ्य मंत्री ने कहा था कि ऑक्सीजन की कमी से किसी की मौत नहीं हुई है और नहीं किसी राज्य ने इसके बारे में कोई आंकड़े दिए है।

मनीष सिसोदिया ने इसे भाजपा का प्रोपेगैंडा करार दिया है। उन्होंने कहा कि मोदी सरकार झूठ बोल रही है कि वे ऑक्सीजन की कमी के कारण होने वाली मौतों का डेटा एकत्र कर रहे हैं। सिसोदिया ने कहा कि आप राज्यों से पूछोगे नहीं, राज्यों को जांच नहीं करने दोगे और आप कह दोगे कि राज्य बता नहीं रहे? दिल्ली सरकार को अब तक केंद्र से ऐसा कोई पत्र नहीं मिला है। डेटा साझा नहीं करने के लिए राज्यों को दोषी ठहराया जा रहा है।

हम उनसे कोई बात न होने के बावजूद सभी डेटा केंद्र सरकार को भेज देंगे। सिसोदिया ने कहा कि दिल्ली को कोरोना की दूसरी लहर के दौरान गंभीर ऑक्सीजन संकट का सामना करना पड़ा था। ऐसे में बिना जांच के कह पाना कि ऑक्सीजन की कमी से मौतें हुई हैं या नहीं मुश्किल है। सिसोदिया ने कहा कि केंद्र ने हमें अभी तक कोई पत्र नहीं भेजा है, फिर भी केंद्र सरकार को हम अपना जवाब भेजेंगे।

Next Story