Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

Delhi Coronavirus: दिल्ली में कोरोना के मामलों में डबल बढ़ोतरी, जानें पिछले 24 के चौंकाने वाले आंकड़े

Delhi Coronavirus: आंकड़ों के मुताबिक शहर में संक्रमण की दर 0.08 प्रतिशत दर्ज की गई है। राष्ट्रीय राजधानी में वैश्विक महामारी की दूसरी लहर शुरू होने के बाद से 11वीं बार ऐसा हुआ है जब एक दिन में किसी मरीज की मौत नहीं हुई है।

Delhi Coronavirus: दिल्ली में कोरोना के मामलों में डबल बढ़ोतरी, जानें पिछले 24 के चौंकाने वाले मामले
X

दिल्ली में कोरोना के मामलों में डबल बढ़ोतरी, जानें पिछले 24 के चौंकाने वाले मामले

Delhi Coronavirus दिल्ली में कोरोना के मामलों में डबल वृद्धि दर्ज की गई है। वहीं संक्रमण से एक भी मरीज की मौत नहीं (Corona Death) हुई है। कोरोना के मामले बढ़ने के कारण पॉजिटिव रेट (Positive Rate) में बढ़ोतरी दर्ज की गई है। इस बीच, दिल्ली में कोरोना से शुक्रवार को 57 नये मामले सामने (New Corona cases) आए है। जबकि इस दौरान संक्रमण से किसी मरीज की मौत नहीं हुई। एक दिन में महामारी को मात देकर 46 लोग ठीक होकर अपने घर चले गए। इस बात की जानकारी दिल्ली स्वास्थ्य विभाग (Delhi Health Department) की ओर से दी गई है।

शहर में संक्रमण की दर 0.08 प्रतिशत दर्ज

आंकड़ों के मुताबिक शहर में संक्रमण की दर 0.08 प्रतिशत दर्ज की गई है। राष्ट्रीय राजधानी में वैश्विक महामारी की दूसरी लहर शुरू होने के बाद से 11वीं बार ऐसा हुआ है जब एक दिन में किसी मरीज की मौत नहीं हुई है। आधिकारिक आंकड़ों के मुताबिक 18 जुलाई, 24 जुलाई, दो अगस्त, चार अगस्त, आठ अगस्त, 11 अगस्त और 12 अगस्त, 13 अगस्त और 16 अगस्त को भी कोविड-19 से किसी की मौत नहीं हुई थी। इस साल दो मार्च को, शहर में कोरोना वायरस के कारण किसी की मौत नहीं हुई थी। उस दिन एक दिन में संक्रमितों की संख्या 217 और संक्रमण दर 0.33 प्रतिशत थी।

बीते दिन कोविड-19 के 25 नये मामले आए थे सामने

अप्रैल-मई के दौरान शहर में दूसरी लहर ने असर दिखाना शुरू कर दिया था। ताजा बुलेटिन के मुताबिक, शुक्रवार को, 57 नये मामले सामने आए और संक्रमण दर बढ़कर 0.08 प्रतिशत हो गई। आधिकारिक आंकड़ों के मुताबिक, बृहस्पतिवार को कोविड-19 के 25 नये मामले सामने आए थे जो पिछले साल 15 अप्रैल के बाद से सबसे कम है और दो मरीजों की मौत हुई थी जबकि संक्रमण दर 0.04 प्रतिशत थी। बुधवार को, शहर में 36 मामले आए थे और चार मरीजों की मौत दर्ज की गई थी जबकि संक्रमण दर 0.05 प्रतिशत थी।

Next Story