Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

Delhi Coronavirus: दिल्ली में कोरोना के 15 महीने बाद आए सबसे कम मामले, जानें पिछले 24 घंटे के आंकड़े

Delhi Coronavirus: स्वास्थ्य विभाग के बुलेटिन में बताया गया कि महामारी की शुरुआत से अब तक दिल्ली में संक्रमण के 14,34,608 मामले सामने आ चुके हैं और अब तक 14.08 लाख से ज्यादा लोग ठीक हो चुके हैं। दिल्ली में कोविड-19 से अब तक 24,997 मरीजों की मौत हो चुकी है।

Delhi Coronavirus: दिल्ली में कोरोना के 15 महीने बाद आए सबसे कम मामले, जानें पिछले 24 घंटे के आंकड़े
X

दिल्ली में कोरोना के 15 महीने बाद आए सबसे कम मामले

Delhi Coronavirus दिल्ली में कोरोना का ग्राफ (Corona Graph) लगातार गिर रहा है। इस बीच, राजधानी में पिछले 24 घंटे में कोरोना के 54 नए मामले सामने (New Corona Cases) आए है। जो कि पिछले साल 15 अप्रैल से सबसे कम हैं। स्वास्थ्य विभाग (Health Department) की ओर से यहां जारी आंकड़ों के अनुसार, पिछले एक दिन में कोविड-19 से दो और मरीजों की मौत हो (Corona Deaths) गई और संक्रमण दर (Positive Rate) गिरकर 0.09 प्रतिशत रह गई। स्वास्थ्य विभाग के बुलेटिन में बताया गया कि महामारी की शुरुआत से अब तक दिल्ली में संक्रमण के 14,34,608 मामले सामने आ चुके हैं और अब तक 14.08 लाख से ज्यादा लोग ठीक हो चुके हैं। दिल्ली में कोविड-19 से अब तक 24,997 मरीजों की मौत हो चुकी है।

दिल्ली में वैक्सीन की 83.82 लाख से अधिक खुराक दी गई

राष्ट्रीय राजधानी में सोमवार तक कोविड टीके की कुल 83,82,845 खुराक दी गई है। दिल्ली सरकार के दैनिक बुलेटिन में यह जानकारी दी गई है। बुलेटिन के अनुसार 19,10,694 लोगों को टीके की दोनों खुराक दी जा चुकी है जबकि 64,72,151 लोगों को टीके की पहली खुराक मिल चुकी है। राष्ट्रीय राजधानी में रविवार को कुल 9,509 टीके लगाये गये क्योंकि सरकारी टीकाकरण केंद्र बंद थे। इसके अनुसार कुल 5,651 लोगों को पहली खुराक दी गई और 3,858 लोगों को टीके की दूसरी खुराक दी गई। आधिकारिक आंकड़ों के अनुसार, 45 से अधिक आयु वर्ग के 12,65,395 लोगों और 18-44 आयु वर्ग के 1,80,424 लोगों का पूर्ण टीकाकरण हो चुका है। शहर में टीके की 3,43,000 हैं जिनमें से कोवैक्सीन की 2,61,000 और कोविशील्ड की 82,000 खुराक हैं। बुलेटिन में कहा गया है कि टीकों का भंडार एक दिन तक चलने की उम्मीद है।

कमजोर वर्गों के टीकाकरण के लिये स्पेशल अभियान

दिल्ली में कमजोर वर्गों के लोगों के लिए स्पेशल अभियान शुरू होने वाला है। इसमें यौनकर्मियों, समलैंगिकों, बेघर लोगों, प्रवासियों और निर्माण श्रमिकों सहित समाज के कमजोर वर्ग के लोगों के लिए कोरोना टीकाकरण अभियान चला रहा है। प्रशासन ने 'डॉक्टर्स फॉर यू' सहित कई गैर सरकारी संगठनों से हाथ मिलाया है और ऐसे लोगों को टीका लगाने तथा उन्हें मुफ्त चिकित्सा देखभाल व राशन प्रदान करने के लिए शिविर आयोजित किए हैं।

Next Story