Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

Delhi Coronavirus: दिल्ली में कोरोना के 50 नये मामले मिले, पॉजिटिव रेट 0.07 प्रतिशत दर्ज

Delhi Coronavirus: बुलेटिन के मुताबिक दिल्ली में बीते 24 घंटे में 73,324 नमूनों की कोविड-19 जांच की गयी। बुलेटिन के मुताबिक दिल्ली में कोविड-19 के उपचाराधीन मरीजों की संख्या घटकर 468 हो गयी है, इनमें से 164 मरीज घर पर ही रहकर अपना इलाज करवा रहे हैं। मामले घटने के साथ ही कंटेनमेंट जोन की संख्या घटकर 250 हो गयी है।

Delhi Coronavirus: दिल्ली में कोरोना के 50 नये मामले मिले, पॉजिटिव रेट 0.07 प्रतिशत दर्ज
X

दिल्ली में कोरोना के 50 नये मामले मिले, पॉजिटिव रेट 0.07 प्रतिशत दर्ज

Delhi Coronavirus दिल्ली में कोरोना वायरस के मामले लगातार मिल रहे है। संक्रमण के केस में उतार-चढ़ाव जारी है। इस बीच, (Corona New Cases) दिल्ली में पिछले 24 घंटे में कोरोना के 50 नये मामले सामने आए हैं। एक दिन में संक्रमण से किसी मरीज की मौत (Corona Death) नहीं हुई। दिल्ली में संक्रमण की दर (Positive Rate) 0.07 प्रतिशत हो गयी है। इसकी जानकारी दिल्ली स्वास्थ्य विभाग (Health Department) के बुलेटिन द्वारा दी गई है। यह लगातार तीसरा दिन है, जब दिल्ली में संक्रमण से किसी मरीज की मौत नहीं हुई है।

दिल्ली में बीते दिन कोविड संक्रमण के 50 नये मामले मिलने के साथ ही कुल संक्रमितों की संख्या बढ़कर 14,36,988 हो गयी। दिल्ली में अब तक 14.11 लाख से अधिक लोग इस जानलेवा वायरस के संक्रमण को मात दे चुके हैं। दिल्ली में शुक्रवार को 73,324 नमूनों की कोविड-19 जांच की गयी। बुलेटिन के मुताबिक दिल्ली में कोविड-19 के इलाज करवाने वाले मरीजों की संख्या घटकर 468 हो गयी है, इनमें से 164 मरीज घर पर ही रहकर अपना इलाज करवा रहे हैं। मामले घटने के साथ ही कंटेनमेंट जोन की संख्या घटकर 250 हो गयी है।

गर्भवती और स्तनपान कराने वाली महिलाओं को जांच सेंटरों पर लगेगी वैक्सीन

राजधानी में गर्भवती और स्तनपान कराने वाली महिलाओं को कोरोना वैक्सीन दी जाएगी। जहां वे प्रसव से पूर्व या बच्चे के जन्म के बाद जांच कराने के लिए जाती हैं। इसका मतलब हुआ कि स्तनपान कराने वाली महिलाएं उन केंद्रों पर भी टीका लगवा सकेंगी जहां वे अपने बच्चों के नियमित टीकाकरण के लिए जाती हैं। आदेश में कहा गया कि इन केंद्रों पर सीधे पहुंचकर कोविन पोर्टल के माध्यम से टीका लगवाया जा सकेगा। इसमें कहा गया कि कोविन पर इन सत्रों के आयोजन के लिए टीकाकरण करने वाले कर्मियों को प्रशिक्षण दिया जाना चाहिए।

Next Story