Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

Delhi Coronavirus: दिल्ली में कई महीनों बाद आए सबसे कम मामले, लेकिन मौतों की संख्या फिर बढ़ी, जानें पिछले 24 घंटे के आंकड़े

Delhi Coronavirus: बुलेटिन के मुताबिक 183 मरीज गृह पृथक-वास में हैं वहीं निषिद्ध क्षेत्रों की संख्या 407 है। दिल्ली में अस्पतालों में 12,754 बेड में से केवल 339 पर मरीज हैं। रविवार को दिल्ली में कोविड-19 से एक भी मरीज की मौत नहीं हुई थी और संक्रमण के 51 मामले सामने आए थे।

Delhi Coronavirus: दिल्ली में कई महीनों बाद आए सबसे कम मामले, लेकिन मौतों के संख्या फिर बढ़ी, जानें पिछले 24 घंटे के आंकड़े
X

दिल्ली में कई महीनों बाद आए सबसे कम मामले

Delhi Coronavirus दिल्ली में कोरोना के मामले लगातार कम हो रहे है। लेकिन मौतों (Delhi Corona Death) की संख्या में फिर से वृद्धि देखी गई है। वहीं पॉजिटिव रेट (Positive Rate) में भी गिरावट दर्ज की गई है। दिल्ली में पिछले 24 घंटे में कोरोना के 36 नए मामले (Corona New Cases) मिले। जबकि इस महामारी से तीन और मरीजों की मौत हो गई। पिछले साल 15 अप्रैल को दिल्ली में में संक्रमण के 17 मामले आए थे। दिल्ली में इस समय संक्रमण दर 0.06 प्रतिशत है। सोमवार को इस संक्रमण से 58 लोग ठीक होकर अपने घर गए।

बुलेटिन के अनुसार, अब तक संक्रमण के 14,35,565 मामले सामने आ चुके हैं और कोविड-19 से 25,030 मरीजों की मौत हो चुकी है। दिल्ली में 14,09,968 लोग संक्रमण मुक्त हो चुके हैं। मृत्यु दर 1.74 प्रतिशत है। पिछले 24 घंटे के दौरान कुल 59,410 नमूनों की जांच की गयी। दिल्ली में 567 उपचाराधीन मरीज हैं। बुलेटिन के मुताबिक 183 मरीज गृह पृथक-वास में हैं वहीं निषिद्ध क्षेत्रों की संख्या 407 है। दिल्ली में अस्पतालों में 12,754 बेड में से केवल 339 पर मरीज हैं। रविवार को दिल्ली में कोविड-19 से एक भी मरीज की मौत नहीं हुई थी और संक्रमण के 51 मामले सामने आए थे।

कोरोना वैक्सीन का स्टॉक खत्म होने के कगार पर

दिल्ली में बीते दिन कोरोना वैक्सीन की 2,77,870 डोज बची हैं। वहीं, वैक्सीन का स्टॉक फिर से खत्म होने के कगार पर है। इनमें से 2,05,630 डोज कोवैक्सीन की हैं और 72,240 कोविशील्ड की हैं। कोवैक्सीन स्टॉक का केवल 20 प्रतिशत पहली खुराक के लिए उपयोग किया जा सकता है क्योंकि कोवैक्सीन स्टॉक सीमित है और इसका अनियमित वितरण चक्र है। दिल्ली में आमतौर पर 47,605 टीके लगाए जा सकते हैं। दिल्ली में आज की तारीख तक 93,57,482 खुराकें लगाई जा चुकी हैं जिनमें 22,16,010 लोगों को टीके की दूसरी खुराक लगाना भी शामिल है।

Next Story