Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

Delhi Coronavirus: दिल्ली में कोरोना के 34 नए मामले सामने आए, अब तक 25088 मरीजों की मौत

Delhi Coronavirus: नए मामलों के साथ ही दिल्ली में संक्रमित लोगों की कुल संख्या बढ़कर 14,39,000 हो गयी। आंकड़ों के अनुसार, अब तक 14.13 लाख से अधिक मरीज इस बीमारी से उबर चुके हैं वहीं मृतकों की कुल संख्या 25,088 है। स्वास्थ्य बुलेटिन के अनुसार, अधिकारियों ने पिछले दिन कुल 34,038 परीक्षण किए, जिनमें 26,258 आरटी-पीसीआर जांच थी।

Delhi Coronavirus: दिल्ली में कोरोना के 34 नए मामले सामने आए, अब तक 25088 मरीजों की मौत
X

 दिल्ली में कोरोना के 34 नए मामले सामने आए

Delhi Coronavirus दिल्ली में कोरोना महामारी (Corona Pandemic) का असर धीरे-धीरे कम होता दिखाई दे रहा है। हालांकि संक्रमण के मामले लगातार सामने आ रहे है। इस बीच, राजधानी में पिछले 24 घंटे में कोरोना के 34 नए मामले सामने (New Corona Case) आए हैं। जबकि पॉजिटिविटी रेट (Positive Rate) 0.10 प्रतिशत दर्ज की गयी। एक दिन में इस बीमारी से किसी की मौत (Delhi Corona Death) नहीं हुई। दिल्ली में अक्टूबर में अब तक कोविड-19 (Covid19) के कारण सिर्फ एक मरीज की मौत दर्ज की गई है। इस बारे में स्वास्थ्य विभाग (Health Department) द्वारा जानकारी दी गई।

सितंबर में संक्रमण से पांच लोगों की हुई मौत

पिछले महीने कोविड के कारण पांच लोगों की मौत हुयी थी। नए मामलों के साथ ही दिल्ली में संक्रमित लोगों की कुल संख्या बढ़कर 14,39,000 हो गयी। आंकड़ों के अनुसार, अब तक 14.13 लाख से अधिक मरीज इस बीमारी से उबर चुके हैं वहीं मृतकों की कुल संख्या 25,088 है। स्वास्थ्य बुलेटिन के अनुसार, अधिकारियों ने पिछले दिन कुल 34,038 परीक्षण किए, जिनमें 26,258 आरटी-पीसीआर जांच थी। दिल्ली में अभी इस बीमारी के 398 मरीज हैं, जिनमें से 118 घरों में पृथकवास में हैं। सरकारी आंकड़ों के अनुसार दिल्ली में 16 जनवरी से टीकाकरण अभियान शुरू होने के बाद से अब तक टीकों की 1.83 करोड़ खुराकें दी जा चुकी हैं। 61 लाख से अधिक लोगों को टीकों की दोनों खुराकें दी जा चुकी हैं।

आयुष अस्पतालों ने कोरोना मरीजों को ठीक होने में की मदद

दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन ने सोमवार को कहा कि कोविड​​​​-19 मामलों की बढ़ोतरी के समय दिल्ली के तीन आयुष अस्पतालों ने कोरोना वायरस रोगियों की सेवा की और चिकित्सकीय वातावरण प्रदान करके उन्हें ठीक होने में मदद की। जैन स्वतंत्रता के 75वें वर्ष और होम्योपैथी के 225वें वर्ष के उपलक्ष्य में आयोजित एक समारोह को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि महामारी के दौरान, तीन आयुष अस्पतालों चौधरी ब्रह्म प्रकाश आयुर्वेदिक चरक संस्थान, नेहरू होम्योपैथिक अस्पताल एवं आयुर्वेदिक और यूनानी तिब्बिया कॉलेज एवं अस्पताल ने कोरोना वायरस रोगियों का इलाज किया।

Next Story