Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

Delhi News: CM अरविंद केजरीवाल ने लॉन्च किया 'देश का मेंटर' प्रोग्राम, छात्रों के लिए कही दिल छू लेने वाली बात

मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने इस कार्यक्रम को आज लॉन्च किया है। इस दौरान उन्होंने कहा कि दिल्ली सरकार ने स्कूलों के लिए 'देश के मेंटर' नाम का एक प्रोग्राम शुरू किया है। इससे दिल्ली के शिक्षा के क्षेत्र में गजब की सकारात्मकता आएगी। उन्होंने कहा कि स्कूल खत्म होने के बाद बच्चों को यह नहीं पता होता कि वह भविष्य में क्या करे।

Delhi News: CM अरविंद केजरीवाल ने लॉन्च किया
X

CM अरविंद केजरीवाल ने लॉन्च किया 'देश का मेंटर' प्रोग्राम

दिल्ली के स्कूलों में 'देशभक्ति पाठ्यक्रम' और 'हैप्पीनेस करीकुलम' (Patriotic Curriculum and Happiness Curriculum) की शुरूआत के बाद अब देश का मेंटर प्रोग्राम (Desh Ka Mentor) की शुरुआत की गई है। मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल (CM Arvind Kejriwal) ने इस कार्यक्रम को आज लॉन्च (Launched) किया है। इस दौरान उन्होंने कहा कि दिल्ली सरकार (Delhi Government) ने स्कूलों के लिए 'देश के मेंटर' नाम का एक प्रोग्राम शुरू किया है। इससे दिल्ली के शिक्षा के क्षेत्र में गजब की सकारात्मकता आएगी। उन्होंने कहा कि स्कूल खत्म होने के बाद बच्चों को यह नहीं पता होता कि वह भविष्य में क्या करे। अगर बच्चों को उस समय अच्छे मेंटोर मिलेंगे जो उन्हें बता सकें कि वह आगे क्या कर सकते हैं तो बच्चों को काफी मदद मिलेगी। इस कार्यक्रम की शुरुआत त्यागराज स्टेडियम में संबोधित करते हुए किया है।

तीन चीजों के लिए बच्चों को करेंगे तैयार

कुछ दिन पहले हमने 'देशभक्ति पाठ्यक्रम' और 'हैप्पीनेस करीकुलम' की शुरूआत की थी। सबलोग इसे कौतूहलवश देख रहे थे, लेकिन इसकी महक विदेशों तक पहुंच गई है। स्कूल में शिक्षा का काम होता है तीन चीजों के लिए बच्चों को तैयार करना। पहला अपना पेट पालने लायक बनना, दूसरा यह कि बच्चों को अच्छा इंसान बनाना और तीसरा होता है अच्छा नागरिक बनाना। आज शुरू किए जा रहे इस कार्यक्रम का भी हमने पायलट प्रोजेक्ट किया था जिसका बहुत अच्छा रिस्पांस मिला।

मेंटर बच्चों को सही रास्ता दिखाएंगे

'देश के मेंटर' कार्यक्रम खास कर किशोरावस्था में प्रवेश कर रहे बच्चों के लिए है। इसके तहत किशोरों को देशभर से मेंटर उपलब्ध कराए जाएंगे जिनसे वे अपने मन की बात साझा कर सकें। अच्छे मेंटर मिलने से बच्चे डिप्रेशन से बाहर आकर नाकारात्मकता और आत्महत्या जैसे विचारों से निजात पा सकेंगे। इसमें देश का कोई भी युवा या वयस्क मेंटर बनकर बच्चों को सही रास्ता दिखा सकता है।

Next Story