Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

Delhi Assembly Monsoon Session: दिल्ली विधानसभा मॉनसून सत्र में जोरदार हंगामा, सदन से बीजेपी नेताओं को निकाला गया बाहर

Delhi Assembly Monsoon Session: इसके बाद विधानसभा अध्यक्ष राम निवास गोयल ने इस पर कड़ी आपत्ति जताते हुए ओमप्रकाश को माफी मांगने को कहा। लेकिन उन्होंने माफी नहीं मांगी। इसके मद्देनजर विधानसभा अध्यक्ष ने ओमप्रकाश सदन से निष्कासित कर दिया गया। उन्होंने आगे कहा कि विपक्ष को अब सदन में 20 मिनट से ज्यादा एक सेकंड नहीं मिलेगा। इस दौरान कांग्रेस ने आरोप लगाया कि केंद्र सरकार और दिल्ली सरकार में महंगाई से लोग डबल मार झेल रहे है।

Delhi Assembly Monsoon Session: दिल्ली विधानसभा मॉनसून सत्र आज से शुरू, सदन से बीजेपी नेताओं को निकाला गया बाहर
X

दिल्ली विधानसभा मॉनसून सत्र आज से शुरू

Delhi Assembly Monsoon Session 2021 दिल्ली में आज से विधानसभा मॉनसून आगाज हो चुका है। सदन की कार्यवाही हंगामेदार तरीके से शुरू हुई। जिसके बाद बीजेपी नेता विजेंद्र गुप्ता (Vijender Gupta) को मार्शल द्वारा सदन से बाहर निकाला गया। कार्यवाही के दौरान विधायक ओमप्रकाश ने आपत्तिजनक शब्द कहा। इसके बाद (Assembly Speaker Ram Niwas Goel) विधानसभा अध्यक्ष राम निवास गोयल ने इस पर कड़ी आपत्ति जताते हुए ओमप्रकाश को माफी मांगने को कहा। लेकिन उन्होंने माफी नहीं मांगी। इसके मद्देनजर विधानसभा अध्यक्ष ने ओमप्रकाश सदन से निष्कासित कर दिया गया। उन्होंने आगे कहा कि विपक्ष को अब सदन में 20 मिनट से ज्यादा एक सेकंड नहीं मिलेगा। इस दौरान कांग्रेस ने आरोप लगाया कि केंद्र सरकार (Central Government) और दिल्ली सरकार (Delhi Government) में महंगाई से लोग डबल मार झेल रहे है।

दिल्ली में लोग गंदा पानी पीने को मजबूर हैं। इसको लेकर ही कांग्रेस आज विधानसभा के बाहर दिल्ली सरकार के खिलाफ़ विरोध प्रदर्शन कर रही है। बताया जा रहा है कि मुख्‍यमंत्री अरविंद केजरीवाल विधानसभा में शाम 5 बजे संबोधन करेंगे। वहीं, हंगामे के कारण विधानसभा अध्‍यक्ष के निर्देश पर भाजपा विधायक को बाहर निकाल दिया। दिल्ली सरकार में मंत्री सत्‍येंद्र जैन ने कहा कि नेता विपक्ष ने सदन में अपने बयान के जरिए जो पिक्चर पेश की, उससे यह बात साबित कर दी कि अभी तक दिल्ली में जितने कमिश्नर लगाए, सब नाकारा थे। खुद कहा था कि सारे नालायक थे, भ्रष्टाचार के खिलाफ कुछ नहीं कर रहे थे, आतंकवाद को रोकने में कुछ नहीं कर रहे थे। ये शर्म की बात है।

ये बीजेपी मान रही है कि दिल्ली के अंदर पुलिस का नाकारापन जानबूझकर किया गया था। विपक्ष के नेता ने अपने बयान में कहा कि एक पार्टी के दामाद के खिलाफ कार्रवाई की, ये किसी को नहीं पता था। बीजेपी और कांग्रेस एक ही सिक्के के दो पहलू है कोई फर्क नहीं है। अंदर ये शोर मचा रहे हैं, बाहर कांग्रेस वालों को खड़ा कर दिया था। बीजेपी को कुछ कहा जाए तो कांग्रेस को दर्द होता है और कांग्रेस को कहा जाए तो बीजेपी को दर्द होता है। वहीं नए दिल्ली पुलिस कमिश्नर की नियुक्ति को लेकर बीजेपी पर आप और कांग्रेस ने निशाना साधा है।

इस पर विपक्ष के नेता रामवीर बिधूड़ी ने सदन में कहा कि ईमानदार, शानदार पुलिस कमिश्नर के बारे में जो कुछ रूलिंग पार्टी के विधायकों ने कहा है, उससे बीजेपी सहमत नहीं है। रूलिंग पार्टी के विधायकों के पास राकेश अस्थाना के बारे में जानकारी का अभाव है। 2001 में उन्हें पुलिस मेडल दिया गया था शानदार सेवाओं के लिए। 2009 में देश में कांग्रेस की सरकार थी, उस समय राकेश अस्थाना को प्रेजिडेंट पुलिस मेडल दिया गया था। जब उनको देश के राष्ट्रपति सम्मानित कर रहे हैं तो हम सभी को राकेश अस्थाना की नियुक्ति का स्वागत करना चाहिए।

Next Story