Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

Delhi Pollution: दिल्ली में बढ़ा प्रदूषण का ग्राफ, हवा हुई थोड़ी जहरीली, जानें आज का AQI

Delhi Pollution: राजधानी में मंगलवार को न्यूनतम तापमान सामान्य से पांच डिग्री अधिक 18.8 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। मौसम विज्ञान विभाग (IMD) के अधिकारियों ने बताया कि सुबह साढ़े आठ बजे हवा में आर्द्रता का स्तर 84 प्रतिशत रहा।

Delhi Pollution: दिल्ली में बढ़ा प्रदूषण का ग्राफ, हवा हुई थोड़ी जहरीली, जानें आज का AQI
X

दिल्ली में बढ़ा प्रदूषण का ग्राफ, हवा हुई थोड़ी जहरीली

Delhi Pollution दिल्ली में गर्मी बढ़ने के साथ प्रदूषण का ग्राफ भी बढ़ता जा रहा है। दिल्ली में मंगलवार को प्रदूषण का स्तर खराब श्रेणी में दर्ज किया गया। राजधानी में वायु गुणवत्ता सूचकांक (AQI) खराब श्रेणी रहा। सुबह आठ बजकर पांच मिनट पर एक्यूआई 287 रहा। वहीं, राजधानी में मंगलवार को न्यूनतम तापमान सामान्य से पांच डिग्री अधिक 18.8 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। मौसम विज्ञान विभाग (IMD) के अधिकारियों ने बताया कि सुबह साढ़े आठ बजे हवा में आर्द्रता का स्तर 84 प्रतिशत रहा।

अधिकारियों ने बताया कि अधिकतम तापमान 32 डिग्री सेल्सियस के आसपास रह सकता है। मौसम वैज्ञानिक ने दिन में आमतौर पर बादल छाए रहने और हल्की बारिश या बूंदा-बांदी का पूर्वानुमान लगाया है। केन्द्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड (CPCB) के अनुसार राजधानी में वायु गुणवत्ता सूचकांक खराब श्रेणी में दर्ज किया गया। सुबह आठ बजकर पांच मिनट पर एक्यूआई 287 रहा। जबकि गाजियाबाद, गुडगांव में वायु गुणवत्ता खराब, नोएडा और फरीदाबाद में मध्यम श्रेणी में रही गाजियाबाद और गुड़गांव में औसत वायु गुणवत्ता खराब श्रेणी में दर्ज की गई जबकि ग्रेटर नोएडा, नोएडा और फरीदाबाद में यह मध्यम श्रेणी में रही। एक सरकारी एजेंसी द्वारा सोमवार को जारी आंकड़ों में यह जानकारी दी गई है।

केन्द्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड के वायु गुणवत्ता सूचकांक के अनुसार दिल्ली के निकट स्थित इन पांच स्थानों पर हवा में प्रदूषक पीएम2.5 और पीएम10 की मात्रा भी अधिक रही। सीपीसीबी के ऐप समीर के अनुसार औसत 24 घंटे में एक्यूआई गाजियाबाद में 230, ग्रेटर नोएडा में 196, नोएडा में 192, फरीदाबाद में 174 और गुड़गांव में 204 था। आपकी जानकारी के लिए बता दें कि शून्य और 50 के बीच एक्यूआई को अच्छा, 51 और 100 के बीच संतोषजनक, 101 और 200 के बीच मध्यम, 201 और 300 के बीच खराब, 301 और 400 के बीच बेहद खराब और 401 और 500 गंभीर माना जाता है।

Next Story