Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

Covid Rules Violation: बंगला साहिब गुरुद्वारा को बंद करने का आदेश, मनजिंदर सिंह सिरसा ने जताई नाराजगी

डीडीएमए ने पूर्व में धार्मिक स्थलों को फिर से खोलने का आदेश दिया था, लेकिन कोरोना वायरस संक्रमण के प्रसार को रोकने के वास्ते अरदास के प्रवेश को अनुमति नहीं दी थी। इस बीच, शिरोमणि अकाली दल (शिअद) नेता एवं दिल्ली सिख गुरुद्वारा प्रबंधक समिति (डीएसजीएमसी) के निवर्तमान प्रमुख मनजिंदर सिंह सिरसा ने चाणक्यपुरी एसडीएम के आदेश पर नाराजगी जताई और मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल से जिले के अधिकारियों के खिलाफ कार्रवाई की मांग की।

Covid Rules Violation: गुरुद्वारा बंगला साहिब को बंद करने का आदेश, मनजिंदर सिंह सिरसा ने जताई नाराजगी
X

गुरुद्वारा बंगला साहिब को बंद करने का आदेश, मनजिंदर सिंह सिरसा ने जताई नाराजगी

Covid Rules Violation सेंट्रल दिल्ली में स्थित गुरुद्वारा बंगला साहिब (Bangla Sahib Gurdwara) को कोरोना नियमों का उल्लंघन करने के मामले में तत्काल रूप से बंद करने का आदेश सुनाया है। ये आदेश चाणक्यपुरी जिला प्रशासन (Chanakyapuri District Administration) ने जारी की है। इस आदेश के बाद दिल्ली सिख गुरुद्वारा प्रबंधन समिति (DSGMC) के निवर्तमान अध्यक्ष मनजिंदर सिंह सिरसा (Manjinder Singh Sirsa) ने संबंधित अधिकारियों के खिलाफ कार्रवाई की मांग की है। एसडीएम के 16 सितंबर के इस आदेश में कहा गया है कि बंगला साहिब गुरुद्वारे के प्रबंधन ने डीडीएमए (DDMA) के निर्देशों का उल्लंघन किया और गुरुद्वारे के अंदर अरदास करने की अनुमति दी गई।

सिरसा ने सीएम केजरीवाल से की कार्रवाई की मांग

डीडीएमए ने पूर्व में धार्मिक स्थलों को फिर से खोलने का आदेश दिया था, लेकिन कोरोना वायरस संक्रमण के प्रसार को रोकने के वास्ते अरदास के प्रवेश को अनुमति नहीं दी थी। इस बीच, शिरोमणि अकाली दल (शिअद) नेता एवं दिल्ली सिख गुरुद्वारा प्रबंधक समिति (डीएसजीएमसी) के निवर्तमान प्रमुख मनजिंदर सिंह सिरसा ने चाणक्यपुरी एसडीएम के आदेश पर नाराजगी जताई और मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल से जिले के अधिकारियों के खिलाफ कार्रवाई की मांग की।

एसडीएम कार्यालय ने कहा- डीडीएमए के आदेश के अनुसार की गई कार्रवाई

उन्होंने कहा कि हम दिल्ली सरकार की इस बीमार मानसिकता की निंदा करते हैं और अरविंद केजरीवाल जी से संबंधित डीसी और एसडीएम गीता ग्रोवर के खिलाफ सख्त कार्रवाई करने की मांग करते हैं। सिरसा ने कहा कि उस गुरुद्वारे को बंद करने का आदेश जारी किया गया है, जिसने कोरोना की दूसरी लहर और लॉकडाउन के दौरान लंगर का आयोजन तथा मरीजों के लिए बिस्तरों की व्यवस्था कर कई लोगों की मदद की है। चाणक्यपुरी एसडीएम कार्यालय ने कहा कि जो कुछ भी हुआ है, वह डीडीएमए के आदेश के अनुसार हुआ है। उसने इसपर और टिप्पणी करने से इनकार किया।

Next Story