Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

Noida Corona: नोएडा स्टेडियम अस्थाई कोविड अस्पताल में तब्दील, 8 मई से शुरू होगा मरीजों का इलाज, मिलेगी ये सुविधा

Noida Corona: इस कोविड अस्पताल में 5 वेंटीलेटर बेड की व्यवस्था रहेगी। साथ में आईसीयू बेड भी लगाए जाएंगे। इसे कुल 50 बेड की क्षमता वाले अस्पताल के रूप में तैयार किया जा रहा है। 300 खाली सिलेंडर भी भरकर नोएडा स्टेडियम पहुंच गए हैं। इसके बन जाने के बाद नोएडा के लोगों को काफी राहत मिलने की उम्मीद है।

Noida Corona: नोएडा स्टेडियम अस्थाई कोविड अस्पताल में तब्दील, 8 मई से शुरू होगा मरीजों का इलाज, मिलेगी ये सुविधा
X

नोएडा स्टेडियम अस्थाई कोविड अस्पताल में तब्दील

Noida Corona नोएडा के गौतमबुध नगर (Gautam Budh Nagar) में कोरोना वायरस (Corona virus) अनियंत्रित हो गया है। यहां लगातार मामले बढ़ रहे है। इस वजह से अस्पतालों में (Hospitals) बेड (ICU Beds), आईसीयू, ऑक्सीजन (Oxygen) और वेंटिलेटर की भारी कमी हो रही है। सैकड़ों लोगों की जान सुविधाओं के अभाव में जा चुकी और जा रही है। जिसे देखते हुए नोएडा स्टेडियम (Noida Stadium) को अस्थाई कोविड अस्पताल (Covid Hospital) में तब्दील किया गया है। जो की 8 मई शुरू हो जाएगा। इस कोविड अस्पताल में 5 वेंटीलेटर बेड की व्यवस्था रहेगी। साथ में आईसीयू बेड भी लगाए जाएंगे। इसे कुल 50 बेड की क्षमता वाले अस्पताल के रूप में तैयार किया जा रहा है।

300 खाली सिलेंडर भी भरकर नोएडा स्टेडियम पहुंच गए हैं। इसके बन जाने के बाद नोएडा के लोगों को काफी राहत मिलने की उम्मीद है। इस अस्थाई कोविड अस्पताल में डॉक्टर और पैरामेडिकल स्टाफ की ड्यूटी पर तैनात किए जाएंगे। आपको बता दें कि कुल 8 डॉक्टर और 16 नर्स की तैनाती होगी। वार्ड ब्वॉय और आया अलग से ड्यूटी में लगाए जाएंगी। 8 घंटे ड्यूटी के हिसाब से इन सभी की रोस्टर बनाया जाएगा।

इसके अलावा एक सीनियर काउंसलर की भी मौजूदी रहेगी। नोएडा प्राधिकरण ने सेक्टर 21ए स्थित स्टेडियम के शूटिंग रेंज में 50 बेड का कोविड हॉस्पिटल शुरू करने की घोषणा की थी। अस्पताल का निर्माण कार्य में अंतिम चरण में पहुंच गया है। मेडिकल उपकरणों और किट के लिए नोएडा को दिल्ली पर निर्भर रहना पड़ता है। जबकि दिल्ली में संपूर्ण लॉकडाउन है। ऐसे में मेडिकल सामान जुटाने में भारी परेशानी हो रही है। लेकिन किसी तरह इनके स्टॉक को सुनिश्चित किया जा रहा है। 8 मई को अस्पताल का संचालन शुरू हो जाएगा। जिसके बाद कोरोना मरीज यहां आकर अपना इलाज करवा सकते है।

Next Story