Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

ऑक्सीजन पर राजनीति, मनीष सिसोदिया ने कहा- दिल्ली के लिए हरियाणा और उत्तर प्रदेश की सरकारों का व्यवहार ठीक नहीं

सिसोदिया ने कहा कि जब केंद्र सरकार ने दिल्ली का ऑक्सीजन का आवंटन बढ़ा दिया है तो हरियाणा (Hariyana Govt) और उत्तर प्रदेश (UP Government) की सरकारें इस तरह का व्यवहार क्यों कर रही हैं जैसे दिल्ली का उत्तर प्रदेश और हरियाणा से झगड़ा है। उन्होंने कहा कि आज दिल्ली में चारों तरफ ऑक्सीजन की त्राही इसलिए मची हुई है क्योंकि हरियाणा और उत्तर प्रदेश ने ऑक्सीजन को लेकर जंगलराज मचा रखा है।

ऑक्सीजन के लिए मची त्राही, मनीष सिसोदिया ने कहा- दिल्ली के लिए हरियाणा और उत्तर प्रदेश की सरकारों का व्यवहार ठीक नहीं
X

मनीष सिसोदिया

Delhi Coronavirus Update दिल्ली में कोरोना महामारी (Corona Pandemic) का संकट गहराता जा रहा है। कोरोना से संक्रमितों (Corona Positive) लोगों की हालत खराब हो रही है। वहीं दिल्ली में रोजाना हजारों मामले सामने आ रहे है और 200 से ज्यादा लोगों की जान जा रही है। दिल्ली की अस्पतालों (Corona Hospitals) में बेड्स, दवाई और ऑक्सीजन (Oxygen) खत्म होने से टेंशन बढ़ गई है। इस समय कई अस्पतालों में ऑक्सीजन पूरी तरह खत्म हो गई है। सरोज, राठी, शांति मुकुंद, तीरथ राम अस्पताल, यूके अस्पताल, जीवन अस्पताल का कहना है कि हमारे यहां ऑक्सीजन खत्म हो गई है। हम जैसे-तैसे उन्हें ऑक्सीजन सिलेंडर देने की कोशिश कर रहे हैं। इस बारे में प्रेस कॉन्फ्रेंस करके दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया (Deputy CM Manish Sisodia) ने जानकारी दी है।

सिसोदिया ने कहा कि जब केंद्र सरकार ने दिल्ली का ऑक्सीजन का आवंटन बढ़ा दिया है तो हरियाणा (Haryana Govt) और उत्तर प्रदेश (UP Government) की सरकारें इस तरह का व्यवहार क्यों कर रही हैं जैसे दिल्ली का उत्तर प्रदेश और हरियाणा से झगड़ा है। उन्होंने कहा कि आज दिल्ली में चारों तरफ ऑक्सीजन की त्राही इसलिए मची हुई है क्योंकि हरियाणा और उत्तर प्रदेश ने ऑक्सीजन को लेकर जंगलराज मचा रखा है। वहां की सरकारें, अधिकारी, पुलिस वहां के ऑक्सीजन प्लांट से दिल्ली के लिए ऑक्सीजन नहीं निकलने दे रहे हैं। केंद्र सरकार इसमें हस्तक्षेप करे। उन्होंने कहा कि हम अभी अंदरूनी व्यवस्था कर रहे हैं लेकिन कुछ समय बाद लोगों की जान बचाना मुश्किल हो जाएगा। उत्तर प्रदेश और हरियाणा की पुलिस दिल्ली की ऑक्सीजन आपूर्ति बाधित कर रही है, केंद्र से अनुरोध है कि जरूरत पड़ने पर अर्धसैनिक बलों की मदद लेकर भी आपूर्ति सुनिश्चित करे।

इससे पहले, दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि केंद्र सरकार ऑक्सीजन का कोटा और कौन सी कंपनी ये कोटा देगी ये तय करती है। दिल्ली में ऑक्सीजन नहीं बनती है, सारी ऑक्सीजन बाहर के राज्यों से आती है। ऑक्सीजन की कंपनियां जिन राज्यों में हैं, उनमें से कुछ राज्य सरकारों ने उन कंपनियों से दिल्ली के कोटे की ऑक्सीजन भेजनी रोक दी। उन्होंने कहा कि हमारा ऑक्सीजन का जो कोटा बढ़ा है, उसमें काफी ऑक्सीजन ओडिशा से आनी है। बढ़े हुए कोटे की ऑक्सीजन को दिल्ली पहुंचने में कुछ दिन लग जाएंगे, हम कोशिश कर रहे हैं कि हवाईजहाज से ऑक्सीजन लाई जा सके। उन्होंने कहा कि ये बहुत बड़ी आपदा है, अगर इसमें हम हरियाणा, पंजाब, तमिलनाडु, गुजरात, पश्चिम बंगाल में बंट गए तो भारत नहीं बचेगा, इस वक्त हमें एक-दूसरे की मदद करनी है।

Next Story