Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

Assembly Elections 2022 : पंजाब में शिक्षकों के साथ धरने पर बैठे अरविंद केजरीवाल, कहा- मिलकर करेंगे संघर्ष

दिल्ली के मुख्यमंत्री और आम आदमी पार्टी (Aam Aadmi Party) के संयोजक अरविंद केजरीवाल (Arvind Kejriwal) ने शनिवार को पंजाब में आगामी विधानसभा चुनाव (Assembly Elections) को लेकर उत्साह के बीच मोहाली में धरने पर बैठे शिक्षकों से मुलाकात की।

Assembly Elections 2022 : पंजाब में शिक्षकों के साथ धरने पर बैठे अरविंद केजरीवाल, कहा- मिलकर करेंगे संघर्ष
X

दिल्ली के मुख्यमंत्री और आम आदमी पार्टी (Aam Aadmi Party) के संयोजक अरविंद केजरीवाल (Arvind Kejriwal) ने शनिवार को पंजाब में आगामी विधानसभा चुनाव (Assembly Elections) को लेकर उत्साह के बीच मोहाली में धरने पर बैठे शिक्षकों से मुलाकात की।

इस दौरान उन्होंने राज्य सरकार पर हमला बोला। शिक्षकों के साथ धरने पर बैठे दिल्ली के मुख्यमंत्री ने कहा कि यह बड़े दुख की बात है कि शिक्षकों को कक्षा के बजाय पानी की टंकी पर चढ़ना पड़ रहा है। अरविंद केजरीवाल के साथ आम आदमी पार्टी के सांसद भगवंत मान भी धरने पर बैठे हैं। धरने पर बैठे केजरीवाल ने संबोधित करते हुए कहा कि पंजाब सरकार उनके साथ अन्याय कर रही है। उन्होंने कहा अगर राज्य में उनकी सरकार बनती है तो शिक्षकों की सभी मांगें मान ली जाएंगी।


केजरीवाल ने मुख़्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी (Charanjit Singh Channi) पर निशाना साधते हुए कहा कि 'जब मैं एयरपोर्ट से धरना स्थल की ओर आ रहा था तो मैंने चन्नी साहब के होर्डिंग्स देखे जिसमे लिखा था कि 36 हजार कर्मचारियों को पक्का कर दिया गया है। उन्होंने चन्नी पर झूठ का आरोप लगते हुए कहा की न तो शिक्षकों को स्थायी नौकरी मिली और न ही किसी सफाई कर्मचारी को नियमित किया गया।

केजरीवाल ने कहा दिल्ली की शिक्षा मनीष सिसोदिया (Manish Sisodia) ने नहीं बल्कि वहां के शिक्षकों ने सुधारी है. शिक्षकों को संबोधित करते हुए अरविंद केजरीवाल ने कहा मै आप से वादा करता हूँ कि एक वार अपने छोटे भाई को मौका दीजिए। अगर मै अपना वादा पूरा नहीं कर पाया तो मुझे बहार का रास्ता दिखा देना। पंजाब में शिक्षा के स्तर में सुधार होगा।" उन्होंने कहा कि सरकार दिल्ली के शिक्षकों को प्रशिक्षण के लिए विदेश भेजती है।

केजरीवाल ने शिक्षकों से कहा कि वे एक साथ लड़ेंगे। चन्नी सरकार पर तंज कसते हुए अरविंद केजरीवाल ने कहा कि पंजाब के कई स्कूल सातवीं तक एक भी शिक्षक नहीं है। कहीं तो एक शिक्षक है। यहां सिर्फ पुताई कर उसे स्मार्ट स्कूल (Smart School) बताते हैं।

वहीं आम आदमी पार्टी के सांसद भगवंत मान (Bhagwant Mann) ने कहा कि पंजाब लावारिस हो गया है। भगवंत मान ने कहा कि जिन्हें पंजाब के बच्चों का भविष्य संवारना है, वे अपने भविष्य के लिए लड़ रहे हैं। ऐसे में बच्चे पंजाब से बाहर नहीं जाएंगे तो कहां जाएंगे? मान ने इस दौरान कहा, "मैं एक शिक्षक का बेटा हूं, इसलिए मैं उनका दर्द समझ सकता हूं, इस लड़ाई में आम आदमी पार्टी शिक्षकों के साथ है।"

Next Story