Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

CM केजरीवाल ने कोरोना जीनोम सीक्वेंसिंग की दूसरी लैब का किया उद्घाटन, बोले- दिल्ली की जनता को मिलेगा फायदा

सीएम अरविंद केजरीवाल ने ट्वीट कर कहा कि भविष्य की तैयारियों के मद्देनज़र आज आईएलबीएस में दिल्ली सरकार की दूसरी Genome Sequencing facility की शुरुआत की। इन लैब्स की मदद से कोरोना के किसी भी नए वेरिएंट की पहचान और उसकी गंभीरता का पता लगाया जा सकेगा। कोरोना काल में विज्ञान की इस तकनीक से दिल्लीवासियों को काफ़ी फ़ायदा मिलेगा।

CM केजरीवाल ने कोरोना जीनोम सीक्वेंसिंग की दूसरी लैब का किया उद्घाटन, बोले- दिल्ली की जनता को मिलेगा फायदा
X

CM केजरीवाल ने कोरोना जीनोम सीक्वेंसिंग की दूसरी लैब का किया उद्घाटन

दिल्ली के एलएनजेपी अस्पताल (LNJP HOspital) के बाद अब इंस्टीट्यूट ऑफ लीवर एंड बायलरी साइंसेज (ILBS) में कोरोना वायरस (Corona Virus) की जीनोम श्रृंखला का पता लगाने वाली दूसरी जीनोम सीक्वेंसिंग लैब (Corona Genome Sequencing Lab) का गुरुवार को उद्घाटन (Inaugurated) किया गया। दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल (CM Arvind Kejriwal) ने इस दूसरे लैब का उद्घाटन करते हुए कहा कि इससे लोगों को फायदा (People Get Benefit) होगा। उन्होंने कहा कि इससे कोरोना संक्रमण के नए स्वरूप और उसके प्रभाव का पता लगाने में आसानी होगी।

सीएम अरविंद केजरीवाल ने ट्वीट कर कहा कि भविष्य की तैयारियों के मद्देनज़र आज आईएलबीएस में दिल्ली सरकार की दूसरी Genome Sequencing facility की शुरुआत की। इन लैब्स की मदद से कोरोना के किसी भी नए वेरिएंट की पहचान और उसकी गंभीरता का पता लगाया जा सकेगा। कोरोना काल में विज्ञान की इस तकनीक से दिल्लीवासियों को काफ़ी फ़ायदा मिलेगा। भविष्य की जरूरतों को ध्यान में रखते हुए आईएलबीएस में आज जीनोम श्रृंखला का पता लगाने वाली दूसरी 'जीनोम-अनुक्रमण प्रयोगशाला' का उद्घाटन किया गया।

इससे पहले केजरीवाल ने राष्ट्रीय राजधानी के एलएनजेपी अस्पताल में बुधवार को पहली जीनोम सीक्वेंसिंग प्रयोगशाला का उद्घाटन किया था। एक बयान में कहा गया कि एलएनजेपी अस्पाल में इस प्रयोगशाला से एक दिन में पांच से सात नमूनों की जीनोम श्रृंखला का पता लगाने में मदद मिल सकेगी। वहीं, ये प्रयोगशालाएं हमें वायरस के नए स्वरूप की पहचान करने और उनके प्रभाव का पता लगाने में मदद करेंगी। दिल्ली की जनता को कोरोना वायरस के वक्त इस प्रौद्योगिकी से काफी लाभ मिलेगा।

Next Story