Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

अतिक्रमण कार्रवाई पर भड़के CM केजरीवाल, कहा- '80 फीसदी दिल्ली अवैध...

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल (arvind kejriwal) ने सोमवार को अतिक्रमण (encroachment campaign) के खिलाफ नगर निगम (municipal corporation) की कार्रवाई को लेकर भाजपा (bjp) पर हमला बोला है। मुख्यमंत्री केजरीवाल ने कहा कि मैं भी अतिक्रमण के खिलाफ हूं।

अतिक्रमण कार्रवाई पर भड़के CM केजरीवाल, कहा- 80 फीसदी दिल्ली अवैध...
X

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल (arvind kejriwal) ने सोमवार को अतिक्रमण (encroachment campaign) के खिलाफ नगर निगम (municipal corporation) की कार्रवाई को लेकर भाजपा (bjp) पर हमला बोला है। मुख्यमंत्री केजरीवाल ने कहा कि मैं भी अतिक्रमण के खिलाफ हूं। लेकिन बीजेपी जिस तरह से दिल्ली की गलियों में बुलडोजर (bulldozer action) चलाकर अपनी ताकत का गलत इस्तेमाल कर डर का माहौल पैदा कर रही है, वह सही नहीं है।

केजरीवाल ने अपनी प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा, बीजेपी कह रही है कि वह दिल्ली से सभी अतिक्रमण हटाने जा रही है। हम भी अतिक्रमण के खिलाफ हैं। हम भी नहीं चाहते कि कही अतिक्रमण हो। योजनाबद्ध तरीके से दिल्ली का विस्तार नहीं किया गया है। अगर दिल्ली का 80 फीसदी हिस्सा अतिक्रमण में है तो क्या 80 फीसदी दिल्ली को तोड़ा जाएगा? बीजेपी दिल्ली के 63 लाख लोगों की दुकानों या घरों पर बुलडोजर चला सकती है।

यह स्वतंत्र भारत (independent india) की सबसे बड़ी तबाही होगी। उन्होंने कहा, 'हर काम करने का एक तरीका होता है, मैं भी अतिक्रमण के खिलाफ हूं। लेकिन बीजेपी जिस तरह से बुलडोजर चलाकर अपनी ताकत का गलत इस्तेमाल कर डर का माहौल पैदा कर रही है, वह सही नहीं है। बुलडोजर (bulldozer) से लोगों के घरों को तबाह करना ठीक नहीं है। हम इसका विरोध करते हैं। इस तरह का हंगामा, गुंडागर्दी करना ठीक नहीं है। हम इसका विरोध करते हैं। इस तरह की बदमाशी, गुंडागर्दी में शामिल होना ठीक नहीं है। अपनी शक्ति का दुरूपयोग करना ठीक नहीं है।

उन्होंने कहा हम दिल्ली की जनता को विश्वास दिलाते हैं कि हम अतिक्रमण और अवैध रूप से बनी दिल्ली की समस्या का समाधान करेंगे। कच्ची कॉलोनी में रहने वाले लोगों को मालिकाना हक देंगे। दिल्ली को झुग्गियों से भी मुक्त करेंगे। उन्होंने कहा कि बीजेपी एमसीडी (bjp mcd) में 15 साल से राज कर रही है, उन्होंने क्या किया? अब 2 दिन में खत्म हो रहा है इनका कार्यकाल, क्या इनके पास नैतिक और कानूनी शक्ति है? तो चुनाव कराइए।

और पढ़ें
Next Story