Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

छत्रसाल स्टेडियम हत्याकांड मामला: सुशील कुमार और उसके सहयोगियों को चार दिन की पुलिस हिरासत

क्राइम ब्रांच की हिरासत में सुशील पहलवान से पूछताछ के लिए दिल्ली पुलिस ने मनोवैज्ञानिक की मदद ली है क्योंकि सुशील सवालों का सही से जवाब नहीं दे रहे है और असमान्य व्यवहार कर रहे है। आपको बता दें कि 23 वर्षीय पहलवान सागर धनकड़ की हत्या (Sagar Dhankhar murder) के मामले में सुशील कुमार को गिरफ्तार किया गया था।

छत्रसाल स्टेडियम हत्याकांड मामला: तिहाड़ जेल में बंद सुशील कुमार की बढ़ती जा रही है फरमाइशों की लिस्ट, अब मांगी ये चीज
X

छत्रसाल स्टेडियम हत्याकांड मामला

दिल्‍ली के छत्रसाल स्‍टेडियम हत्याकांड मामले (Chhatrasal Stadium Murder Cases) में पहलवान सुशील कुमार (Sushil Kumar) दिल्ली पुलिस की गिरफ्त में है। वहीं खबर आ रही है कि दिल्ली की एक अदालत ने ओलंपिक पदक विजेता सुशील कुमार के चार कथित साथियों को छत्रसाल स्टेडियम में 23 वर्षीय एक पहलवान की हत्या के मामले में चार दिन की पुलिस हिरासत में भेज दिया गया है। इससे पहले, सुशील कुमार बार बार अपना बयान बदल रहे है। वहीं कई सवालों के जवाब देने में भी आनाकानी कर रहे है। हत्याकांड केस की जांच कर रही क्राइम ब्रांच की टीम ने फैसला किया है कि पूछताछ के लिए मनोविज्ञान से संबंधित एक्सपर्ट का सहारा लिया जाए है। इस बात की जानकारी दिल्‍ली पुलिस सूत्रों ने दी है।

उन्होंने बताया कि क्राइम ब्रांच की हिरासत में सुशील पहलवान से पूछताछ के लिए दिल्ली पुलिस ने मनोवैज्ञानिक की मदद ली है क्योंकि सुशील सवालों का सही से जवाब नहीं दे रहे है और असमान्य व्यवहार कर रहे है। आपको बता दें कि 23 वर्षीय पहलवान सागर धनकड़ की हत्या (Sagar Dhankhar murder) के मामले में सुशील कुमार को गिरफ्तार किया गया था। दिल्ली पुलिस के क्राइम ब्रांच के अधिकारियों के साथ ही मनोवैज्ञानिक भी सुशील कुमार से पूछताछ कर रहे हैं। लेकिन सुशील कुमार उनके सवालों से डर रहे है और सीधा जवाब नहीं दे रहे है। वहीं, सुशील कुमार मनोवैज्ञानिक की पूछताछ से बचना चाह रहा है।

ऐसा सामने आया है कि गैंगस्टर काला जठेड़ी की धमकी के बाद सुशील काफी डरा हुआ है साथ ही वह पुलिस को लगातार गुमराह कर रहा है। वहीं बीते दिन जन्मदिन के मौके पर हवालात में सुशील कुमार फफक-फफक कर रो रहे थे। पुलिस ने कहा कि सुशील कुमार को दिनभर शांत देखा गया। कुमार का जन्म 26 मई 1983 को हुआ था। बुधवार सुबह रोहिणी जिला पुलिस ने सुशील कुमार के चार साथियों को छत्रसाल स्टेडियम में हुए कथित संपत्ति विवाद के मामले में गिरफ्तार किया जिसमें 23 वर्षीय पहलवान सागर की मौत हो गई थी।

पुलिस ने चारों को अपराध शाखा को सौंप दिया। पुलिस ने बुधवार को बताया कि उन्होंने आरोपियों की पहचान हरियाणा के झज्जर जिले के रहने वाले भूपेंद्र (38), मोहित (22), गुलाब (24) और रोहतक जिले के रहने वाले मंजीत (29) के रूप में की है। पुलिस ने बताया कि ये लोग काला असौदा और नीरज बवाना गिरोह के सक्रिय सदस्य हैं और इन्हें मंगलवार की रात को दिल्ली के कंझावला इलाके से गिरफ्तार किया गया। दिल्ली पुलिस की रोहिणी जिले की स्पेशल स्टाफ टीम ने एक खुफिया सूचना मिलने पर ये गिरफ्तारियां की।

Next Story