Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

छत्रसाल स्टेडियम हत्याकांड मामला: पहलवान सुशील कुमार की महिला मित्र पर भी कसा शिकंजा, स्कूटी देकर भगाने का आरोप

आज पहलवान सुशील कुमार और उसके सहयोगी को दिल्ली के रोहिणी कोर्ट में पुलिस पेश करेगी। उसके बाद अबतक हुई पूछताछ के दौरान जो भी महत्वपूर्ण जानकारियां सुशील कुमार से जांच करने वाली टीम को प्राप्त हुई है उसे कोर्ट को बताने के बाद आगे की रिमांड लेने से अब क्राइम ब्रांच की टीम इंकार कर सकती है।

छत्रसाल स्टेडियम हत्याकांड मामला: पहलवान सुशील कुमार की महिला मित्र पर भी कसा शिकंजा, स्कूटी देकर भगाने का आरोप
X

 पहलवान सुशील कुमार की महिला मित्र पर भी कसा शिकंजा

Chhatrasal Stadium Murder Case दिल्ली के छत्रसाल स्टेडियम हत्याकांड मामले में ओलंपिक विजेता सुशील कुमार (Sushil Kumar) पर पुलिस का शिकंजा बढ़ता ही जा रहा है। दिल्ली पुलिस सुशील कुमार से संबंधित हर एंगल से जांच कर रही है। अब पुलिस (Delhi Police) सुशील कुमार की करीबी महिला खिलाड़ी से पूछताछ कर सकती है। बताया जा रहा है कि इस करीबी महिला ने भागने के लिए सुशील को अपनी स्कूटी दी थी। क्राइम ब्रांच (Crime Branch) सुशील कुमार के खिलाफ मोबाइल फुटेज एवं गवाहों के बयान के आधार पर जांच करेगी।

दिल्‍ली पुलिस की जांच में पता चला था कि जब स्पेशल सेल ने सुशील और उसके सहयोगी अजय को गिरफ्तार किया था। तब वो स्कूटी से मुंडका इलाके में घूम रहे थे। यह स्कूटी सुशील की महिला मित्र की थी, जो राष्ट्रीय स्तर की हैंडबाल खिलाड़ी है। अब पुलिस महिला खिलाड़ी को भी सुशील की मदद करने के आरोप में नोटिस देकर पूछताछ के लिए बुला सकती है। आपको बता दें कि छत्रसाल स्टेडियम में 4 मई को हुई पहलवान सागर धनखड़ की हत्या (Sagar dhankhar Murder case) के मामले में सुशील कुमार को दिल्‍ली पुलिस ने गिरफ्तार किया था।

वहीं आज पहलवान सुशील कुमार और उसके सहयोगी को दिल्ली के रोहिणी कोर्ट में पुलिस पेश करेगी। उसके बाद अबतक हुई पूछताछ के दौरान जो भी महत्वपूर्ण जानकारियां सुशील कुमार से जांच करने वाली टीम को प्राप्त हुई है उसे कोर्ट को बताने के बाद आगे की रिमांड लेने से अब क्राइम ब्रांच की टीम इंकार कर सकती है।

सूत्रों के मुताबिक, फिलहाल पूछताछ पूरी हो गई है। क्राइम ब्रांच की टीम कुल 10 दिनों की कस्टडी पूरी करते हुए सुशील कुमार की अब कस्टडी नहीं मांगेगी। क्राइम ब्रांच के वरिष्ठ अधिकारी ने इस खबर की पुष्टि करते हुए बताया है कि बाद में जब जरूरत हुई तब उसकी रिमांड हम लोग कोर्ट से ले लेंगे। ऐसे हालात में सुशील कुमार को तिहाड़ जेल में भेजा जा सकता है।

Next Story