Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

Chhatrasal Stadium Murder Case: तिहाड़ में बंद सुशील कुमार जेल स्टाफ के बने नए 'गुरु', शुरू की 'बॉडी बिल्डिंग की पाठशाला'

Chhatrasal Stadium Murder Case: दिल्ली कोर्ट ने ओलंपिक पदक विजेता पहलवान सुशील कुमार और उसके 12 अन्य साथियों के खिलाफ सागर धनखड़ हत्याकांड में दिल्ली पुलिस की ओर से दायर आरोपपत्र का संज्ञान लिया। उन्होंने कहा कि सभी आरोपियों को अंतिम रिपोर्ट की प्रतियां सौंपने के लिए मामले की सुनवाई 20 अगस्त के लिए निर्धारित की।

Chhatrasal Stadium Murder Case: तिहाड़ में बंद सुशील कुमार जेल स्टाफ के बने नए
X

 तिहाड़ में बंद सुशील कुमार जेल स्टाफ के बने नए 'गुरु'

Chhatrasal Stadium Murder Case छत्रसाल स्टेडियम हत्याकांड मामले में मुख्य आरोपी ओलिंपिक पदक विजेता सुशील कुमार (Sushil Kumar) तिहाड़ जेल (Tihar Jail) में बंद है। उन्होंने जेल में अपनी सुविधा के हिसाब से कई जरूरत की चीजों की मांग की है और जेल प्रशासन (Jail Administration) लेकर दिल्ली कोर्ट (Delhi Court) ने उनकी मांगों को पूरी की है। वहीं अब सुशील कुमार तिहाड़ जेल में लोगों को हेल्थ और स्वस्थ्य (Health Tips) रहने को लेकर टिप्स दे रहे है। सूत्रों ने बताया है कि वह अब जेल में बंद कैदियों (Prisoner) को पहलवानी के गुण सीखा रहे हैं। जबकि बड़ी मात्रा में लोग उनसे बॉडी बनाने की टिप्स रहे है।

इसलिए अब तिहाड़ जेल में ही सुशील ने सुबह-शाम 'बॉडी बिल्डिंग पाठशाला' शुरू की है। इससे जेल स्टाफ को फायदा भी हो रहा है। सुशील जेल नंबर दो में सुबह-शाम कैदियों को पहलवानी के गुण सीखा रहे है। साथ ही ओलिंपिक मेडल जीतने की पूरी कहानी उनसे सुनते रहते है। इस स्टाफ में ज्यादातर वे लोग है जिनकी जेल में ड्यूटी लगी है जो सिपाही के तौर पर तैनात रहते है। उधर, दिल्ली कोर्ट ने ओलंपिक पदक विजेता पहलवान सुशील कुमार और उसके 12 अन्य साथियों के खिलाफ सागर धनखड़ हत्याकांड में दिल्ली पुलिस की ओर से दायर आरोपपत्र का संज्ञान लिया। उन्होंने कहा कि सभी आरोपियों को अंतिम रिपोर्ट की प्रतियां सौंपने के लिए मामले की सुनवाई 20 अगस्त के लिए निर्धारित की।

आपको बता दें कि सागर धनखड़ और उसके चार दोस्तों के साथ संपत्ति विवाद को लेकर चार और पांच मई की दरम्यानी रात को स्टेडियम में कुमार और अन्य ने कथित तौर पर मारपीट की थी। बाद में, जख्मों के कारण सागर की मौत हो गई थी। पुलिस ने हत्या के इस मामले में तीन अगस्त को आरोपपत्र दायर किया था जिसमें कुमार को मुख्य आरोपी नामजद किया गया है। आरोपपत्र में, पुलिस ने सागर का मौत के वक्त दिया बयान, आरोपी की मौजूदगी वाली जगह, सीसीटीवी फुटेज और मौके से बरामद वाहनों समेत वैज्ञानिक साक्ष्यों का सहारा लिया है।

Next Story