Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

Chhath Puja In Delhi: दिल्ली में सार्वजनिक जगहों पर छठ पूजा मनाने पर लगी रोक, DDMA ने जारी की नई गाइडलाइंस

Chhat Puja In Delhi: दिल्ली आपदा प्रबंधन प्राधिकरण (DDMA) ने नई गाइडलाइंस (New Guidelines) जारी की हैं। जो कि 15 नवंबर तक प्रभावी रहेंगी। इस दौरान छठ पूजा पहले दिवाली और दशहरा के लिए भी यही गाइडलाइंस जारी रहेगी। इसके तहत कोरोना के नियमों का सख्ती से पालन (Corona Protocol) किया जाएगा। इसके साथ दिल्ली-एनसीआर में पटाखों पर पहले ही बैन लगा हुआ है।

Chhath Puja 2021: छठ पर्व की कल से होगी शुरुआत, जानें पूरा कार्यक्रम
X

Chhath Puja 2021: छठ पर्व की कल से होगी शुरुआत, जानें पूरा कार्यक्रम

दिल्ली सरकार ने छठ पूजा (Chhat Puja ) को लेकर बड़ा फैसला किया है। यहां कोरोना महामारी (Corona Pandemic) के संकट मद्देनजर सार्वजनिक जगहों पर छठ पूजा मनाने पर रोक लगा दी गई है। बता दें कि पिछले साल की तरह इस साल भी लोग अपने घरों में ही त्योहार (Festival) को मनाएंगे। इसके लिए दिल्ली आपदा प्रबंधन प्राधिकरण (DDMA) ने नई गाइडलाइंस (New Guidelines) जारी की हैं। जो कि 15 नवंबर तक प्रभावी रहेंगी। इस दौरान छठ पूजा पहले दिवाली और दशहरा के लिए भी यही गाइडलाइंस जारी रहेगी। इसके तहत कोरोना के नियमों का सख्ती से पालन (Corona Protocol) किया जाएगा। इसके साथ दिल्ली-एनसीआर में पटाखों पर पहले ही बैन लगा हुआ है। डीडीएमए ने आदेश में कहा है कि छठ पूजा के लिए मेला आयोजन करने की छूट नहीं होगी। इससे पहले दिल्ली में सार्वजनिक स्थानों पर गणेश उत्सव, विसर्जन करने की भी छूट नहीं दी गई थी। तब भी सार्वजनकि कार्यक्रमों पर रोक थी। हालांकि नवरात्रों और दुर्गा पूजा के लिए थोड़ी राहत जरूर दी गई है।

त्योहारों के लिए जारी की गई गाइडलाइंस

डीडीएमए ने सिर्फ छठ नहीं बल्कि नवंबर तक आने वाले बाकी त्योहारों के लिए भी गाइडलाइंस जारी की हैं। इसमें लिखा है कि फेस्टिव सीजन के दौरान दिल्ली में मेला, फूड स्टाल, झूले, रैली आदि की इजाजत नहीं है। गाइडलाइंस के तहत कहा गया है कि सार्वजनिक जगहों, पब्लिक ग्राउंड, नदी के किनारों, मंदिरों आदि में छठ पूजा नहीं की जा सकेगी। ऐसे में लोगों को घर में छठ पूजा करने को कहा गया है।

दिल्ली में पिछले तीन साल से पटाखों के चलाने पर प्रतिबंध

दिल्ली में पटाखे पहले से बैन दिल्ली में प्रदूषण को देखते हुए पटाखों पर पहले से ही बैन लगा दिया गया है. मतलब इस बार भी दिवाली पर पटाखे नहीं चलेंगे। मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने 15 सितंबर को ट्वीट कर इस बात की जानकारी दी थी। उन्होंने बताया कि वायु प्रदूषण के चलते इस साल भी पटाखों के स्टोरेज, बिक्री और इस्तेमाल पर प्रतिबंध लगाया जा रहा है। दिल्ली में पिछले तीन साल से पटाखों के चलाने पर प्रतिबंध लगा है।

Next Story