Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

केंद्र का ऐतिहासिक निर्णय, दिल्ली में अब सिर्फ हाईटेक और सर्विस इंडस्ट्री ही लगेंगे, अरविंद केजरीवाल ने दी ये महत्वपूर्ण जानकारी

केंद्र सरकार ने एक नोटिफिकेशन जारी किया है जिसके बाद दिल्ली के सभी इंडस्ट्रियल एरिया में अब किसी नई इंडस्ट्रियल एक्टिविटी को अनुमति नहीं होगी। सिर्फ हाई टेक और सर्विस इंडस्ट्री को अनुमति होगी। लोग अपनी वर्तमान इंडस्ट्री बदल कर सर्विस और हाई टेक में जा सकते हैं।

दिल्ली में अरविंद केजरीवाल ने लगाया पटाखों पर प्रतिबंध
X

दिल्ली में अरविंद केजरीवाल

दिल्ली के औद्योगिक विकास के लिए ऐतिहासिक निर्णय लिया गया है। दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने खुद प्रेस कॉन्फ्रेंस कर इसकी जानकारी दी है। केंद्र सरकार की यह कदम राजधानी को प्रदूषण मुक्त बनाने में एक और अहम कदम के रूप में देखा जा रहा है। उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार ने एक नोटिफिकेशन जारी किया है जिसके बाद दिल्ली के सभी इंडस्ट्रियल एरिया में अब किसी नई इंडस्ट्रियल एक्टिविटी को अनुमति नहीं होगी। सिर्फ हाई टेक और सर्विस इंडस्ट्री को अनुमति होगी। लोग अपनी वर्तमान इंडस्ट्री बदल कर सर्विस और हाई टेक में जा

सकते हैं। दिल्ली में पहले हाई टेक और सर्विस इंडस्ट्री कमर्शियल एरिया में आते थे जिसके के लिए बहुत सारा पैसा देना पड़ता था। वरना यही इंडस्ट्री नोएडा, गुरुग्राम या फिर दिल्ली के एनसीआर में चले जाते थे। दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि इस फैसला के बाद दिल्ली अब स्वस्च्छ और साफ बनेगी। वहीं मैन्युफैक्चरिंग इंडस्ट्री से दिल्ली को ज्यादा फायदा भी नहीं होता था बल्कि इससे दिल्ली को प्रदूषण की मार झेलना पड़ता था। जैसे स्टील, सरिया और प्लास्टिक की इंडस्ट्री दिल्ली में काफी प्रदूषण फैलाती है। साथ ही इन इंडस्ट्री एरिया में बहुत बुरी हालत देखने को मिलती है।

सीएम अरविंद केजरीवाल ने हाई टेक और सर्विस इंडस्ट्री में कौन-कौन अपने ऑफिस खोल पाएंगे इसके बारे में भी डिटेल से जानकारी दी है। जैसे मौते तौर पर वकील, अकाउंटेट और मीडिया संस्थान अब दिल्ली में अपने ऑफिस खोल पाएंगे। अंत में मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि मैं केंद्रीय मंत्री हरदीप पुरी के पीछे इस योजना को लेकर कई महीनों से था जिसके बाद आज उन्होंने इस योजना को हरी झंडी दे दी। यह योजना आने वाले भविष्य में काफी महत्वपूर्ण रहेगा। साथ केजरीवाल ने केंद्रीय मंत्री हरदीप पुरी को दिल्ली को लेकर इस ऐतिहासिक कदम उठाने के लिए धन्यवाद किया।

Next Story