Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

भाजपा सांसद ने की खुद दिल्ली नगर निगम की बुराई, उपराज्यपाल अनिल बैजल को पत्र लिख लगाया ये गंभीर आरोप

उत्तर पश्चिमी दिल्ली से भाजपा सांसद हंसराज हंस ने अपने ही पार्टी द्वारा शासित दिल्ली नगर निगम के ऊपर आरोप लगाए है कि एमसीडी ठीक से अपना काम नहीं कर रहा है। उन्होंने इस सिलसिले में दिल्ली के उपराज्यपाल अनिल बैजल को पत्र लिखा है। इस पत्र में आरोप लगाया है कि बीजेपी शासित नगर निगम ठीक से काम नहीं कर रहे हैं। क्योंकि उनके निर्वाचन क्षेत्र को भारी बारिश के कारण जलजमाव की समस्या का सामना करना पड़ रहा है।

भाजपा सांसद ने की खुद दिल्ली नगर निगम की बुराई, उपराज्यपाल अनिल बैजल को पत्र लिख लगाया ये गंभीर आरोप
X

भाजपा सांसद ने की खुद दिल्ली नगर निगम की बुराई

दिल्ली में बारिश का मानसून (Monsoon Rain) खत्म होने वाला है। हालांकि मानसून जाते-जाते भी अपना रंग दिखा रहा है और एक बार फिर से दिल्ली में बारिश शुरू हो गई है। वहीं, बारिश के कारण जगह-जगह जलजमाव (Water logging) देखने को मिल रहा है। इस बीच, उत्तर पश्चिमी दिल्ली से भाजपा सांसद हंसराज हंस (MP Hansraj Hans) ने अपने ही पार्टी द्वारा शासित दिल्ली नगर निगम (Delhi Municipal Corporation) के ऊपर आरोप लगाए है कि एमसीडी ठीक से अपना काम नहीं कर रहा है। उन्होंने इस सिलसिले में दिल्ली के उपराज्यपाल अनिल बैजल (Lieutenant Governor Anil Baijal) को पत्र लिखा है। इस पत्र में आरोप लगाया है कि बीजेपी शासित नगर निगम ठीक से काम नहीं कर रहे हैं। क्योंकि उनके निर्वाचन क्षेत्र को भारी बारिश के कारण जलजमाव की समस्या का सामना करना पड़ रहा है।

उन्होंने उपराज्यपाल को लिख पत्र में कहा कि दिल्ली में भारी बारिश के कारण क्षेत्र में तीन लोगों की मौत हो गई और कई संपत्तियां बर्बाद हुई हैं। वहीं अपने निर्वाचन क्षेत्र की समस्याओं से दिल्ली सिंचाई और बाढ़ नियंत्रण, दिल्ली जल बोर्ड, दिल्ली शहरी आश्रय सुधार बोर्ड (डीयूएसआईबी), दिल्ली विकास प्राधिकरण (डीडीए) और दिल्ली नगर निगम (एमसीडी) को अवगत कराया था। मगर उन्होंने कोई भी कार्रवाई नहीं की। बल्कि उनकी अर्जी का सुना भी नहीं गया।

इस संबंध में सांसद ने उपराज्यपाल से एक बैठक बुलाने का अनुरोध किया है। सांसद द्वारा पत्र में बताया कि दिल्ली के पहले तीन विभाग अरविंद केजरीवाल के नेतृत्व वाली सरकार के दायरे में आते हैं, जबकि डीडीए केंद्र के अधिकार क्षेत्र में आता है। वहीं पिछले 15 सालों से तीनों नगर निगमों में बीजेपी सत्ता में है। वहीं दिल्ली की हालत जस की तस बनी हुई है।

Next Story