Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

कुख्यात गैंगस्टर रोहित चौधरी का सहयोगी 25 हजार का इनामी बदमाश गिरफ्तार

दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच ने गैंगस्टर रोहित चौधरी के सहयोगी को गिरफ्तार किया है। पकड़े गए आरोपी का नाम प्रभात है। पुलिस की माने तो आरोपी फतेहपुर बेरी इलाके में एक प्रापर्टी पर कब्जा करने के दौरान प्रापर्टी मालिक के साथ मारपीट और धमकी देने व हवाई फायरिंग करने के मामले में वांटेड था।

बदमाश आकाश की पुलिस से मुठभेड़, अवैध हथियारों के साथ गिरफ्तार
X
गिरफ्तार (प्रतीकात्मक फोटो)

दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच ने गैंगस्टर रोहित चौधरी के सहयोगी को गिरफ्तार किया है। पकड़े गए आरोपी का नाम प्रभात है। पुलिस की माने तो आरोपी फतेहपुर बेरी इलाके में एक प्रापर्टी पर कब्जा करने के दौरान प्रापर्टी मालिक के साथ मारपीट और धमकी देने व हवाई फायरिंग करने के मामले में वांटेड था। आरोपी को भगौड़ा घोषित करने की प्रक्रिया चल रही थी। आरोपी पर 25 हजार रुपए का इनाम भी घोषित था। पुलिस आरोपी से पूछताछ कर मामले की जांच कर रही है।

एडिशनल पुलिस कमिश्नर (क्राइम ब्रांच) शिबेश सिंह ने बताया कि आरोपी प्रभात मूलरूप से गांव खानपुर मीणा जिला धौलपुर राजस्थान का रहने वाला है। गत 2009 में वह नौकरी की तलाश में दिल्ली आया था। दिल्ली आने के बाद वह छतरपुर इलाके में सुरक्षा गार्ड की नौकरी करने लगा। छह माह बाद उसने नौकरी छोड़ दी। इसके बाद वह छतरपुर में ही एक पीजी में काम करने लगा। वर्ष 2011 में उसकी मुलाकात रोहित चौधरी से हुई। रोहित चौधरी के आदेशों के बाद प्रभात उगाही का काम करने लगा।

जांच में पुलिस को पता चला कि आरोपी प्रभात अपने गांव खानपुर मीणा में स्थानीय निकाय का चुनाव लड़ा था। चुनाव का पूरा खर्च रोहित ने उठाया था और उसकी के आदेश के बाद उसने चुनाव लड़ा था। पिछले वर्ष गत 28 जून को रोहित व प्रभात अपने सहयोगियों के साथ मिलकर फतेहपुर बेरी में स्थित एक खाली प्लॉट पर कब्जा करने गया था।

सभी हथियारों से लैस थे। प्लॉट पर पहुंचने के बाद बदमशों ने प्लॉट के मालिक राजेंद्र सिंह के साथ मारपीट की और डराने के लिए हवाई फायरिंग भी की। बदमाशों ने जाने के बाद राजेंद्र सिंह ने फतेहपुर बेरी थाने में मुकदमा दर्ज किया। पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच शुरू की।

क्राइम ब्रांच ने गत 20 अक्टूबर को रोहित गिरोह के सभी बदमाशों पर मकोका लगा दिया था। उसके बाद एक के बाद एक कई बदमाशों को दबोचा। गुप्त सूचना के बाद पुलिस ने राजस्थान से प्रभात को भी दबोच लिया।

कार को बुलेट प्रुफ में किया था तब्दील

जांच के दौरान पुलिस को पता चला कि आरोपी ने धौलपुर राजस्थान में पत्थर खनन में रोहित चौधरी के साथ मिलकर पैसा लगाया था। रोहित के कहने के बाद उसने एक फाच्र्यूनर कार को बुलेट प्रूफ में बदलवाया था। बुलेट प्रूफ कार को रोहित अपराध और अवैध कामों के लिए इस्तेमाल करता था। बुलेट प्रूफ फॉच्र्यूनर कार और एक एंडेवर कार को क्राइम ब्रांच मकोका केस दर्ज करने के बाद पहले ही जब्त कर चुकी है।

Next Story