Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

पुलिस कैंप का विरोध कर रहे ग्रामीण हुए उग्र, बोला हमला, नक्सली भी घुसे, जवाबी कार्रवाई में तीन मारे गए

बीजापुर व सुकमा की सरहद में पांच दिन पूर्व स्थापित पुलिस कैम्प का विरोध कर रहे ग्रामीणों के साथ नक्सलियों ने सोमवार दोपहर कैंप पर हमला बाेल दिया। पुलिस ने भी जवाबी कार्रवाई की, जिसमें तीन लोग मारे गए। सर्चिंग में बरामद तीनों शव को पुलिस नक्सलियों का बता रही है, लेकिन कुछ लोग इनको ग्रामीण बता रहे हैं।

पुलिस कैंप का विरोध कर रहे ग्रामीण हुए उग्र, बोला हमला, नक्सली भी घुसे, जवाबी कार्रवाई में तीन मारे गए
X

जगदलपुर. बीजापुर व सुकमा की सरहद में पांच दिन पूर्व स्थापित पुलिस कैम्प का विरोध कर रहे ग्रामीणों के साथ नक्सलियों ने सोमवार दोपहर कैंप पर हमला बाेल दिया। पुलिस ने भी जवाबी कार्रवाई की, जिसमें तीन लोग मारे गए। सर्चिंग में बरामद तीनों शव को पुलिस नक्सलियों का बता रही है, लेकिन कुछ लोग इनको ग्रामीण बता रहे हैं। जानकारी के मुताबिक बासागुड़ा व जगरगुण्डा के सीमावर्ती एरिया से लगे सिलगेर में 5 दिन पूर्व 12 मई को सुरक्षा कैम्प स्थापित किया गया था। सिलगेर में खुले इस कैम्प का ग्रामीण लगातार विरोध कर रहे हैं। 14 मई से ग्रामीण इस इलाके में डटकर विरोध प्रदर्शन कर रहे थे। इसे देखते हुए वरिष्ठ अधिकारी भी मौके पर मौजूद होकर ग्रामीणों को समझाने का प्रयास कर रहे हैं।

आईजी सुंदरराज पी ने बताया कि ग्रामीणों को दिग्भ्रमित कर नक्सली गलत जानकारी देकर कैम्प का विरोध करवा रहे थे। रविवार को ग्रामीणों को समझाइश देने के बाद सभी वापस लौट गए थे, लेकिन सोमवार को ग्रामीणों ने कैम्प पर हमला कर दिया। जानकारी मिली है कि ग्रामीणों की आड़ लेकर बासागुड़ा व जगरगुण्डा एरिया कमेटी द्वारा सुनियोजित हमला करते हुए कैम्प पर फायरिंग की गई। आईजी ने बताया कि जवाबी कार्रवाई के बाद सर्चिंग में तीन पुरूषों का शव बरामद किया गया है, जिनकी शिनाख्त की जा रही है। मारे गए पुरूषों के मिलिशिया मेंबर होने की संंभावना व्यक्त की जा रही है, लेकिन पूरी तरह शिनाख्त होने के बाद ही कन्फर्म हो सकेगा।

जवान सुरक्षित

आईजी ने बताया कि सिलगेर कैम्प बासागुड़ा से लगभग 15 किमी दूर पर स्थित है। सिलगेर में जवानों के लिए नए कैम्प की स्थापना की गई है, क्योंकि यह इलाका माओवाद से ग्रस्त व संवेदनशील है। नक्सलियों द्वारा हमले के बाद अभी स्थिति नियत्रंण में है तथा जवान पूरी तरह सुरक्षित है। नक्सलियों के पुन: हमले को देखते हुए इलाके में सर्चिंग की जा रही है तथा जवानों को सतर्क रहने कहा गया है।

कैम्प पर फायरिंग, स्थिति नियंत्रण में

आईजी ने बताया कि वर्तमान में स्थिति पूरी तरह नियत्रंण में है। मौके पर वरिष्ठ अधिकारी मौजूद है तथा स्थिति पर नियंत्रण रखे हुए है। उन्होंने बताया कि कैम्प पर हमला हुआ है, फायरिंग भी की गई है जो ग्रामीणों ने नहीं बल्कि माओवादियों द्वारा ग्रामीणों की आड़ लेकर किया गया है। भारी संख्या में ग्रामीणों के एकत्र होने की सूचना के बाद सिलगेर सीआरपीएफ कैंप पर बैकअप पार्टी भेजी गई है। मौके पर सीआरपीएफ सारकेगुड़ा, सीआरपीएफ मुरंडा, थाना आवापल्ली से सुरक्षाबल मौके पर मौजूद है। घटनास्थल व आसपास के इलाके की सर्चिंग की जा रही है।

Next Story